जमशेदपुर : ज्यादातर लोग बिस्किट खाना पसंद करते हैं और इसे हेल्दी स्नैक के तौर पर भी देखते हैं। लेकिन वैज्ञानिकों का दावा है कि बिस्किट खाना हमारी सेहत को नुकसान पहुंचाता है। एमजीएम मेडिकल कॉलेज की डायटीशियन अनु सिन्हा के मुताबिक, बिस्किट में कैंसर पैदा करने वाली चीजें होती हैं और ये सेहत के लिए नुकसानदायक होता है।

60 अलग-अलग बिस्किट पर स्टडी

अनु सिन्हा ने बताया कि हाल ही में हांगकांग के वैज्ञानिकों ने पाया हे कि ज्यादा बिस्किट खाना कैंसर के खतरे को बढ़ा सकता है। यहां 60 अलग-अलग बिस्किट्स पर स्टडी के बाद पता चला है।

ज्यादा मात्रा में शुगर व फैट कंटेंट

साल 2017 में भारत के वैज्ञानिकों ने पाया था कि देश में निर्मित क्रीम बिस्किट्स में ज्यादातर में निर्धारित से ज्यादा मात्रा मे शुगर व फैट था। जो प्रति किलो 25 से 30 ग्राम व 100 किलो पर 20 ग्राम था।

बढ़ जाएगा कैंसर का खतरा

एक स्टडी के मुताबिक बिस्किट प्री पैक्ड होते हैं और इनमें कैंसर पैदा करने वाले केमिकल ग्लाइसिडर और एकरीलेमाइड होते हैं। ये दोनों कैंसर के खतरे को बढ़ाते हैं। यूरोपियन यूनियन कमीशन ने बिस्किट्स के लिए बेंचमार्क निर्धारित किया है और ईयू का कहना है कि एक किलो बिस्किट में 350 ग्राम से ज्यादा आर्केलेमिड का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

किडनी व रिप्रोडक्टिव आर्गन को नुकसान

एक स्डटी में पाया गया है कि 60 में से 56 सैंपल में एक ऑर्गेनिक केमिकल कम्पाउंड एमसीपीडी था, जो किडनी और पुरुषों के रिप्रोडक्टिव आर्गन को नुकसान पहुंचाता है।

न्यूट्रिशन को लेकर गलत जानकारी

बिस्किट्स के 33 सैंपल में हाई फैट, हाई शुगर और 13 में हाई सोडियम कंटेंड पाया गया। स्टडी में पाया गया कि 40 प्रतिशत बिस्किट ऐसे थे जिनके पैकेट पर न्यूट्रिशन को लेकर गलत जानकारी दी गई थी।

ऑर्टिफिशियल स्वीटनर्स

बिस्किट को लोग हल्के स्नैक के तौर देखते हैं, लेकिन ये हेल्दी भी हो जरुरी नहीं है। कुछ पैकेट्स पर लिखा होता है कि इनमें पूरी तरह से साबुत अनाज, ओटमील का इस्तेमाल किया गया है। वहीं कुछ पर लिखा रहता है कि ये शुगर फ्री हौर फाइबर से भरपूर है। लेकिन जानकारों का कहना है यह जानकारी गलत है।

गर्भाशय को कैंसर का खतरा

स्वीडन में 60000 महिलाओं को करीब दस साल में किए गए एक अध्ययन में पाया गया है कि महिलाओ ने हफ्तों में दो-तीन बार से ज्यादा बिस्किट खाए, उनके गर्भाशय में कैंसर का खतरा 33 प्रतिशत तक बढ़ गया था। वहीं जिन महिलाओं ने हफ्ते में तीन बार से ज्यादा बिस्किट खाए उनमें ट्यूमर होने का खतर 42 प्रतिशत तक बढ़ गया है।

Edited By: Jitendra Singh