जासं, जमशेदपुर : टाटा स्टील में निबंधित कर्मचारी पुत्रों की निकलने वाली 500 की बहाली प्रक्रिया जल्द शुरू हो। इस मांग के साथ सोमवार दोपहर टिस्को ट्यूब निबंधित कर्मचारी संघ का एक प्रतिनिधिमंडल मोहन पांडेय के नेतृत्व में टाटा वर्कर्स यूनियन अध्यक्ष संजीव चौधरी से उनके कार्यालय में मिला। इस दौरान मोहन पांडेय ने यूनियन अध्यक्ष से मांग की है कि कंपनी प्रबंधन और यूनियन नेतृत्व् के बीच सितंबर 2019 में हुए ग्रेड रिवीजन समझौते के दौरान ही कंपनी में 500 कर्मचारी पुत्रों की बहाली पर सहमति बनी थी। लेकिन 16 माह बाद भी अब तक बहाली की प्रक्रिया शुरू नहीं हुई है। जिसके कारण कई कर्मचारी पुत्र 42 वर्ष की उम्र सीमा को पार करते जा रहे हैं। इसलिए निबंधित पुत्रों ने कंपनी में जल्द से जल्द बहाली की प्रक्रिया शुरू कराने की मांग की। वहीं, उन्होंने कहा कि निबंधित कर्मचारी पुत्र लगभग 20 वर्षों से कंपनी में बहाली की मांग कर रहे हैं। वर्ष 2009 के बाद कंपनी में एक भी निबंधित कर्मचारी पुत्रों की बहाली नहीं हुई। लेकिन वे लगातार संघर्ष रहे। इसके कारण कई कर्मचारी पुत्रों की उम्र सीमा अब बहाली के लिए तय उम्र सीमा से अधिक हो चुकी है। ऐसे में ग्रेड रिवीजन के समय ही एनटीटीई के माध्यम से टाटा स्टील में नई कंपनी बनाने की घोषणा की है। मोहन पांडेय ने मांग की है कि इस नई कंपनी में ही सभी निबंधित कर्मचारी पुत्रों की सीधी बहाली कराया जाए ताकि निबंधित पुत्र-पुत्री भी सम्मानपूर्वक अपना जीवन जी सके। इस पर यूनियन अध्यक्ष संजीव चौधरी ने जल्द ही पूरे मामले में कंपनी प्रबंधन से बात करने का आश्वासन दिया है। यूनियन अध्यक्ष से मिलने वालों में मोहन पांडेय के अलावे रंजीत दास, सुष्मा कुमारी, दीपक कौशिक, चैतन मुखी, आरती, संजीव, राजेश पांडेय, अनीस चौधरी, ज्ञान रंजन, रंजीत सिंह, लक्ष्मी, रंजन सिंह, आनंद व अशोक सिंह उपस्थित थे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021