जमशेदपुर, जासं। टाटा मेटालिक्स ने 31 दिसंबर 2020 को समाप्त हुई तीसरी तिमाही के वित्तीय रिपोर्ट जारी की है। कंपनी ने तीसरी तिमाही में कोविड 19 से उबरने के बाद 20 प्रतिशत के ग्रोथ के साथ 75 करोड़ रुपये का शुद्ध मुनाफा अर्जित किया है।

वहीं, कंपनी ने पहली अप्रैल से 31 दिसंबर 2020 के नौ माह की अवधि में कुल 1256 करोड़ रुपये का ऑपरेशन किया और पिछले वर्ष की तुलना में इस नौ माह में कुल 145 करोड़ का मुनाफा अर्जित किया है। टाटा मेटालिक्स ने पिग आयरन डिविजन में मजबूत प्रदर्शन किया है। पिछले पांच वर्षो की तुलना में कंपनी ने चालू वित्तीय वर्ष की दूसरी व तीसरी तिमाही में क्रमश: चार फीसदी और तीन फीसदी की मजबूती अपनी डिलीवरी में दर्ज की है। कंपनी के अनुसार फाउंड्री बिजनेस के परिचालन में आई मजबूती के कारण बाजार में जबदस्त डिमांड रही। जो मजबूत बाजार, ब्लास्ट फर्नेस का बेहतर संचालन, कच्चे माल की अनुकूलता और कोयले प्राप्ति के कारण संभव हो पाया है। वहीं, डीआई पाइप की डिलीवरी में कंपनी ने दूसरी तिमाही में 12 प्रतिशत की अपेक्षा तीसरी तिमाही में 19 प्रतिशत की मजबूती दर्ज की है।

कोविड का भी दिखा असर

हालांकि पोस्ट कोविड के बाद बुनियादी परियोजनाओं में आई सुस्ती के कारण सरकार ने इस दिशा में ज्यादा पहल नहीं की इसके कारण डीआई पाइप के सरकारी आर्डर में थोड़ा खिंंचाव रहा। लेकिन अंतिम तिमाही में डीआई पाइप की बिक्री के अच्छे संकेत बाजार से मिल रहे हैं। हालांकि कंपनी प्रबंधन का कहना है कि घरेलू बाजार में कोयले की कीमत में पिछली तिमाही की अपेक्षा 15 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। वहीं, कच्चे माल की कीमत भी पिछली तिमाही में 22 प्रतिशत की तुलना में तीसरी तिमाही में 24 प्रतिशत तक की उछाल रही। इसके बावजूद कंपनी के पिग आयरन की कीमतों में तेजी आई है। 

हमने किया शानदार व्यापार : एमडी

टाटा मेटालिक्स के एमडी संदीप कुमार का कहना है कि ब्लास्ट फर्नेस में एक माह के शट डाउन के बावजूद हमने पिग आयरन के व्यवसाय में शानदार व्यापार किया है। पिग आयरन की बेहतर डिमांड की वजह से हमने अच्छा मार्जिन अर्जित किया। हालांकि अंतिम तिमाही में कीमतों में लगातार हो रही वृद्धि हमारे मुनाफे को प्रभावित कर सकती है। हालांकि कोविड 19 के प्रभाव के बावजूद डीआई पाइप का व्यवसाय काफी सीमित रहा लेकिन हमें उम्मीद है कि अंतिम तिमाही उत्साहजनक रहेगा।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप