जमशेदपुर (जासं) । भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने सोमवार को झारखंड- बिहार के सांसदों के साथ वर्चुअल बैठक की। इसमें सांसद विद्युत वरण महतो ने राष्ट्रीय अध्यक्ष को सुझाव देते हुए आग्रह किया कि केंद्र सरकार द्वारा संपोषित व प्रायोजित योजनाओं में सांसदों की भागीदारी बढऩी चाहिए। खासकर राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, सांसद आदर्श ग्राम योजना, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना आदि में में सांसदों की प्रत्यक्ष भागीदारी एवं नियंत्रण की व्यवस्था की जानी चाहिए, ताकि केंद्र सरकार की योजनाएं प्रभावी रूप से जनता तक पहुंचाई जा सके।

इससे पूर्व जेपी नड्डा ने सभी सांसदों से कहा  कि कोरोना काल में भारतीय जनता पार्टी ने बढ़-चढ़कर सेवा कार्यों में अपनी भागीदारी निभाई है, इसके लिए वे सभी बधाई के पात्र हैं। इन सारे कार्यों का भारतीय जनता पार्टी एक ई-बुक बनाने जा रही  है। नड्डा ने सांसदों से आग्रह किया कि प्रधानमंत्री का पत्र 10 करोड़ लोगों तक पहुंचाने का कार्य करना है। इसके साथ ही  जिला में दिशा (डिस्ट्रिक्ट इंफ्रास्ट्रक्चर स्कीम एडवाइजरी कमेटी) की बैठक प्रभावी रूप से कराने का आग्रह किया। 

पेयजल समस्या को लेकर आजसू ने सौंपा मांग पत्र

इधर, परसुडीह में पेयजल की विभिन्न समस्याओं के समाधान को लेकर सोमवार को आजसू पार्टी के महानगर उपाध्यक्ष मानिक मल्लिक की अगुवाई में एक प्रतिनिधिमंडल पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के कार्यपालक अभियंता से मुलाकात कर मांगपत्र सौंपा। मांगों में जलापूर्ति योजना के तहत बचे हुए स्थानों में जल्द पाइपलाइन बिछाने, नए कनेक्शन देने, पाइपलाइन से क्षतिग्रस्त सड़क की मरम्मत कराने, अपार्टमेंट में पाइपलाइन के जरिये पानी पहुंचाने, लीकेज पाइपलाइन की मरम्मत आदि शामिल हैं। मानिक ने कहां कि अगर मांगों पर जल्द से जल्द कार्यवाही नही हुई तो आजसू पार्टी आंदोलन को बाध्य होगी। मांगपत्र सौंपने वालों में पार्टी के बिल्टू सरकार, गोपाल मुखर्जी, चंचल बोसाख, सुमित स्वर्णकार शामिल थे। 

Posted By: Vikas Srivastava

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस