जासं, हजारीबाग : वाटर एटीएम के अधिष्ठापन से जहां लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध होगा वहीं कई लोग इससे रोजगार से भी जुड़ेंगे। सदर विधायक

भारतीय रेलवे स्टेशनों और मैट्रो सिटी की तर्ज पर हजारीबाग जैसे छोटे शहरों में भी वाटर एटीएम लगाने की अनोखी योजना सदर विधायक मनीष जायसवाल ने बनाई है। शहर के गरीब तबके के लोगों और राहगीरों को न्यूनतम मूल्य में शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने की अपनी इस अनोखी सोच को सदर विधायक मनीष जायसवाल ने जल्द धरातल पर उतारने के लिए विधायक निधि वर्ष 2019-20 की राशि से शहर के 20 प्रमुख स्थानों पर शुद्ध पेयजल की उपलब्धता के लिए वाटर एटीएम मशीन अधिष्ठापन हेतु उन्होंने जिले के उपविकास आयुक्त को अनुशंसा पत्र भी भेज दिया है। विधायक जायसवाल ने कहा कि वाटर एटीएम के अधिष्ठापन से जहाँ लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध होगा वहीं कई लोग इससे सीधे तौर पर रोजगार से भी जुड़ जाएंगे। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में शहर के कई मोहल्ले में लोग जैसे-तैसे गंदा पानी पीने को मजबूर हो रहे हैं। शहर में व्यवसाय करने वाले दुकानदारों को भी शुद्ध पेयजल नसीब नहीं हो पाता है। ऐसे में यह वाटर एटीएम निश्चित रूप से लोगों को बहुत ही न्यूनतम शुल्क में शुद्ध आरओ का फिल्टर पेयजल उपलब्ध कराने में कारगर साबित होगा। यह जानकारी सदर विधायक के मीडिया प्रतिनिधि रंजन चौधरी ने रविवार को दी है।

शहर के लिए है नया कांसेप्ट

हजारीबाग शहर के लिए यह बिल्कुल ही नया कांसेप्ट है। महानगरों के अलावे झारखंड के रांची, गिरिडीह, गोड्डा, जमशेदपुर सहित कई शहरों में यह सेवा बहाल है। हजारीबाग शहर के स्लम एरिया में निवास करने वाले लोगों और शहर के दुकानदारों को इससे विशेष फायदा होगा। संभवत: एक रुपया प्रति लीटर शुद्ध पेयजल उपलब्ध हो पाएगा।

Posted By: Jagran