फोटो - 22

कोविड के दूसरी लहर के बाद बाद पहली बार भव्य कार्यक्रम का आयोजन

चार साल के बाल स्वयंसेवक से लेकर 80 साल के प्रौढ़ भी हुए शामिल

संवाद सहयोगी, हजारीबाग : राष्ट्रीय स्वयंसेवक के स्वयंसेवकों ने कोविड लहर के दौरान जान की परवाह न करते हुए हर घर भोजन और मरीजों को अस्पताल में खाना पहुंचा कर अपने उद्देश्य और सेवा कार्य को एक बार फिर समाज के सामने रखा था। दूसरी लहर के समापन की सरकार द्वारा घोषणा के बाद रविवार को पहली बार आरएसएस के महानगर एकत्रीकरण का आयोजन सुबह सात बजे की गयी थी, तो किसी ने कल्पना नहीं की थी की चार साल से लेकर 80 साल के प्रौढ़ स्वयंसेवक भी आएंगे। परंतु हजारीबाग स्टेडियम में रविवार को संघ के सभी मासिक एकत्रीकरण का रिकार्ड टूट गया। नौ माह बाद बुलाए गए एकत्रीकरण में 847 स्वयंसेवक पहुंचे। डेढ़ घंटे के इस आयोजन में आम से लेकर खास सभी शामिल हुए। इनमें सदर विधायक से लेकर पूर्व उप महापौर आनंद देव, विभिन्न् सामाजिक संगठनों के आर्य समाज के प्रतिनिधि आचार्य कौटिल्य सहित अन्य शामिल थे। महानगर एकत्रीकरण में डेढ़ घंटे के आयोजन में एक दर्जन विभिन्न खेलों का आयोजन किया गया। इस दौरान पद विन्यास, गीत, योगासन, परिचर्चा, संगोष्ठी तथा लाठी का प्रदर्शन किया गया। एकत्रीकरण में प्रांत प्रचारक दिलीप जी, प्रांत कार्यवाह राकेश लाल विशेष तौर पर शामिल हुए।

Edited By: Jagran