फोटो - 7

लीडृृ-------------

बीएसएफ महानिदेशक ने आइजी डीके शर्मा को सर्वोच्च उत्कृष्ट हिदी कार्य के लिए दिया ट्राफी

संस, हजारीबाग : विश्व में अपने उत्कृष्ट प्रशिक्षण कला के लिए प्रसिद्ध बीएसएफ प्रशिक्षण एवं स्कूल मेरु ने देश भर में एक बार फिर अपनी योग्यता में परचम लहराते हुए राजभाषा ट्राफी पर कब्जा जमाया है। नई दिल्ली में आयोजित विशेष समारोह में हिदी दिवस पर हिदी में सर्वाधिक उच्च कोटि के कार्य के लिए बीएसएफ मेरु को सर्वश्रेष्ठ का तमगा से नवाजा गया । बीएसएफ मेरु को राजभाषा पदक तालिका में लगातार तीसरे वर्ष शीर्ष में अपना स्थान बनाया है। यह सम्मान आईजी सह प्राचार्य बीएसएफ मेरु डीके शर्मा को बीएसएफ महा निदेशक पंकज कुमार सिंह ने दिया। सम्मान के बाद प्रशिक्षण संस्थान को भेजे गए अपने संदेश में श्री डीके शर्मा ने यह सम्मान कार्मिकों के नाम किया। कहा कि यह दिन बीएसएफ मेरु के लिए गर्व का दिन है और इसमें हर एक सिपाही का सहयोग है। इसे भविष्य में भी निरंतर बनाए रखने की अपील की। ज्ञात हो कि बीएसएफ मेरु लगातार अपने सामाजिक दायित्वों के साथ साथ कार्मिक के व्यक्तित्व विकास के लिए वर्ष भर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन करते रही है। इस दौरान विभिन्न खेलों का आयोजन, प्रतियोगिता, लेखन प्रतियोगिता, कविता पाठ, चित्राकंन, श्लोग्न् लिखो प्रतियोगिता के अलावा अपने पोषक क्षेत्रों में भी कई अनोखे अभियान चलाकर प्रेरित हीं नहीं बल्कि प्रशिक्षित करते रही है। इसी कार्य के बल पर 2019, 20 और अब 2021 में बीएसएफ मेरु को देश भर में हिदी के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य के लिए यह सम्मान मिला है। सम्मान की सूचना पर बीएसएफ मेरु में मंगलवार को अधीनस्थ कर्मचारी व अधिकारियों ने एक दूसरे को मिठाई खिलाकर हर्ष व्यक्त किया। वहीं डीआईजी सुल्तान अहमद ने प्राचार्य के भेजे गए संदेश पत्र को पढ़कर सभी को सुनाया और सम्मान के लिए संयुक्त प्रयास हेतू आभार जताया।

Edited By: Jagran