लीड-

इचाक क्षेत्र में दो अलग-अलग घटनाओं में गई जान

संवाद सूत्र इचाक-(हजारीबाग) : थाना क्षेत्र में दो अलग-अलग घटनाओं में दो लोगों की मौत तालाब व कुएं में डूबने से हो गई। पहली घटना

कुरहा गांव की है। यहां स्व. प्रदीप मेहता उर्फ बोतल के 23 वर्षीय पुत्र विक्की मेहता की मौत पुराना इचाक क्षेत्र में जलछाजन विभाग से बने तालाब में डूबने से हो गई। घटना शनिवार 3 बजे की हैं। मृतक की मां शंकुतला देवी घटना के वक्त धान के बिचडे में खाद का छिड़काव कर रही थी। इसी दौरान विक्की हाथ पांव धोने तालाब के छोर पर गया, जहां पैर फिसलने से वह तालाब में जा गिरा। घटना के कुछ देर बाद चारवाहों ने विक्की को पानी में डूबते देख उसकी मां को इसकी जानकारी दी। इसके बाद शोर गुल सुन कर खेतों में काम कर रहे कई लोग घटनास्थल पहुंच कर विक्की को बाहर निकाला। लोगों के सहयोग से उसे इचाक सीएचसी ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने युवक को मृत घोषित कर दिया। विक्की की मानसिक स्थिति असामान्य थी। उसके पिता की मौत 2018 में कुएं में डूबने से हो गई थी । वह अपने विधवा मां शंकुतला का इकलौता संतान था। विक्की की डूबने से हुई मौत के बाद कुरहा गांव में मातम छा गया। सभी के जुबान पर एक ही चर्चा था कि विधवा शंकुतला का संसार लूट गया। यू कहें की अपने ही तालाब में डूबने से विक्की की दर्दनाक मौत हो गई। वही दूसरी घटना में खुटरा के बसंत कुशवाहा के 12 वर्षीय पुत्र कुंदन कुमार की मौत कुआं में डूबने से हो गई। घटना शनिवार की सुबह उस वक्त घटी जब किशोर अपने बगान से होकर खेत की ओर जा रहा था। रास्ता पार करने के क्रम में पैर फिसलने से वह कुएं में जा गिरा। घटना के बाद स्वजनों व ग्रामीणों के सहयोग से कुंदन को इचाक सीएचसी ले जाया गया। जहां डाक्टर ओमप्रकाश ने प्राथमिक उपचार करने के बाद स्थिति गंभीर देखते हुए हजारीबाग अस्पताल रेफर कर दिया। जहां देखते ही चिकित्सकों ने कुंदन को मृत घोषित कर दिया। किशोर के मौत से उसकी मां व परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है। वहीं खुटरा गांव का माहौल गमगीन हो गया।

Edited By: Jagran