पांच दिन पहले हुई थी शादी, इचाक थाने के हदारी की घटना

दोनों पक्ष पहुंचा थाने में, पुलिस को दी घटना की जानकारी

संसू, इचाक(हजारीबाग) : शादी हुए पांच दिन भी नहीं बीता की नवविवाहिता पति को छोड़कर प्रेमी के संग वापस मायके जाने का एक मामला प्रकाश में आया है। मामला इचाक थाना क्षेत्र के हदारी गांव निवासी तुलेश्वर प्रसाद मेहता के घर बुधवार रात देखने को मिला। तूलेश्वर प्रसाद मेहता के छोटे पुत्र नरेश कुमार मेहता की शादी पांच जून की पदमा प्रखंड के बंदर बेला गांव निवासी राजकुमार मेहता की पुत्री अंजली के साथ हुई थी। वर पक्ष वाले छह जून को दुल्हन लेकर हदारी वापस आए। इसके बाद प्रेमिका के फोन से बुलावे पर दुल्हन अंजलि का प्रेमी हीरालाल साव अपने दो दोस्तों के साथ प्रेमिका से मिलने नौ जून बुधवार की रात दस बजे हदारी गांव आ धमका। हदारी पहुंचते ही अंजलि का प्रेमी हीरालाल सीधे उसके घर पहुंच गया। जहां अंजलि और उसके पति नरेश के बीच नोकझोंक चल चल रहा था। कमरे में पहुंचते ही अंजलि के प्रेमी हीरालाल ने उसके पति से कहा कि इसके साथ मारपीट क्यों कर रहे हो। यह मेरी पत्नी है। इसके साथ मेरा आठ साल से प्रेम प्रसंग चला आ रहा। अंजलि के प्रेमी हीरालाल के उसके घर पहुंचने की सूचना मिलते ही अन्य परिजन जाग गए। इसके बाद नरेश के परिजनों ने हीरा लाल साव की लात जूतों से पिटाई कर दी। उसके बाद लड़का पक्ष वालो ने लड़की के पिता के फोन पर सूचना देकर बुलाया। लड़की के परिजन भी रात में लड़का पक्ष के घर पहुच गये। मामला गहराता देख ग्रामीणों ने पीसीआर को फोन कर दिया। इसके बाद पुलिस गश्ती दल नरेश के घर पहुंची। पुलिस ने तत्काल अंजलि और प्रेमी हीरालाल को गिरफ्तार कर थाना ले आया। लड़के पक्ष वालों ने लड़की के पिता पदमा के बंदर बेला गांव निवासी राजकुमार मेहता को मामले की जानकारी दे दी। अंजलि के पिता परिजनों के साथ उसका ससुराल पहुंचे। इसके बाद नरेश के घर वालों की उपस्थिति में उससे पूछताछ की गई। जिसमें अंजलि ने पति को छोड़कर प्रेमी हीरालाल साव के साथ रहने की सहमति दे दी। गुरुवार की सुबह दूल्हा-दुल्हन पक्ष के दर्जनों लोग थाना पहुंचे।

Edited By: Jagran