बरही : नवोदय पब्लिक स्कूल, साधनापुरी बरही के स्कूली बच्चों द्वारा चिड़ियों के संरक्षण एवं उनके लिए घोंसला निर्माण पर बल दिया है। कक्षा पंचम के बच्चो के द्वारा सीसीई पैटर्न के तहत अंग्रेजी विषय के शिक्षक शिवम आनंद के द्वारा अभ्यास के दौरान बच्चो के द्वारा चिड़िया का घोंसला बनाया गया और साथ ही साथ इन्हें यह सीखने को भी मिला कि एक छोटी सी चिड़िया किस प्रकार अपना घोंसला को बनाती है और कितनी मेहनत करके एक एक तिनका को चुन कर अपने रहने का घर बनाती है। मौके पर सभी ने चिड़ियों के संरक्षण पर बल देने का संकल्प लिया। प्रचार्य सुधीर चंद्रा ने बताया कि रचनात्मक कार्य के लिए भी बच्चों को प्रोत्साहित किया जाता है। चिड़ियों के संरक्षण पर बल देने की बात करते हुए कहा कि आज हमारे जंगल तथा आस-पड़ोस से चिड़ियों का चहचहाना कम हो गया है। आज ये विलुप्त होने के कगार पर हैं इन चिड़ियों से हमारे आस-पास के गंदगियों से सफाई मिलती थी। खतरनाक कीट पतंगों को खाकर हमें अनेक बीमारियों से बचाने वाली चिड़ियों को हमें बचाना होगा। कार्यक्रम में कक्षा पंचम के अंकुर, मंटु, अनुष्का, सामरीन,माया,आरजू, अलीशा, सुहानी कृति, अर्चना, आकांक्षा आदि ने भाग लिया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप