हजारीबाग : सूचना भवन सभागार में सोमवार को झारखण्ड पत्रकार सम्मान पेंशन एवं मुख्यमंत्री पत्रकार जीवन बीमा योजना को लेकर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए उप जनसम्पर्क निदेशक आनन्द ने कहा राज्य सरकार एवं सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग पत्रकार के हितों, उनके कल्याण और उनके आर्थिक सुरक्षा को लेकर प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि पत्रकार अत्यंत प्रतिकूल परिस्थितियों में अपने दायित्त्वों का निर्वाहन करते हैं। पत्रकारों के आकस्मिक दुर्घटना अथवा सामान्य मृत्यु के उपरांत उनके आश्रित परिवारों को आर्थिक रूप से अत्यंत विषय परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है। इसको लेकर राज्य सरकार ने पत्रकारों के लिए अत्यंत कल्याणकारी योजना का शुभारंभ किया है ताकि उन्हें अन्य संस्थानों की तरह पत्रकारिता में भी पेंशन संबंधी योजना का लाभ मिल सके। बताया कि झारखण्ड राज्य में पत्रकारिता के संदर्भ में अपनी सेवा देने वाले अधिमान्यता प्राप्त पत्रकारों के लिए यह योजना लाई गई है। पत्रकार सम्मान पेंशन योजना के तहत पेंशनधारी पत्रकारों को प्रतिमाह 7500/- रूपए दिए जाएंगे। साथ ही प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना की प्रीमियम राशि 330/-रूपए वार्षिक तथा प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना की प्रीमियम राशि 12/- रूपए वार्षिक का भुगतान झारखण्ड पत्रकार कल्याण कोष द्वारा किया जाएगा। पत्रकारों को बीस वर्ष की पत्रकारिता की सेवा के उपरांत ही इन दोनों योजनाओं का लाभ लाभ मिल सकेगा। उन्होंने कहा कि पत्रकारों के चयन की अन्य शर्तें एवं अहर्ता वही होगी जो प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना तथा प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के तहत निर्धारित है। मौके पर राज्य के पत्रकारों के पेंशन संबंधी नियमावली-2019 संबंधी विभिन्न पहलूओं की चर्चा की गई।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप