मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

संवाद सूत्र, टाटीझरिया: थानांतर्गत मुरुमातु गांव में एक अधेड़ महिला मोसमात कुंजिया (पति स्व. बासुदेव गंझू) को उसके भैंसुर, देवर, भैंसुर के बेटे और गोतनी द्वारा अ‌र्द्धनग्न कर पिटाई के मामले में दो लोगों को

गिरफ्तार किया गया है। पिटाई करने से पहले महिला के दोनों हाथों को रस्सी से पीछे बांध दिया गया था। मां की पिटाई देख उसका एकलौता बेटा विकास गंझू ने भागकर थाने पहुंचकर पुलिस को सारी जानकारी दी थी। थाना प्रभारी देवेंद्र प्रसाद सिंह ने तत्परता से पुलिस मुरुमातु पहुंचकर मामला को संज्ञान में लिया। अब इस मामले में पुलिस बिनोद गंझू, देवा गंझू को पकड़कर जेल भेज दिया है। साथ ही महिला की गोतनी राधा देवी, रीना देवी, मोसमात लक्षवा व अन्य के विरुद्ध थाना कांड संख्या 20/19 दिनांक 14-7-2019 धारा 147, 148, 149, 448, 307, 354 आइपीसी के तहत मामला दर्ज किया गया है। सोमवार को अन्य तीन आरोपी महिला

रुनवा देवी पति बिनोद गंझू, लक्षवा देवी पति स्व खेमन गंझू, रीना देवी पति कुलदीप गंझू को भी पुलिस ने गिरफतार कर लिया है।

क्या है मामला :

भुक्तभोगी महिला कुंजिया की

सौतेली बेटी सुबासो कुमारी का ननिहाल जमनीजारा गोमिया है। उसकी शादी घटना के दिन रविवार को बनासो मंदिर में होने वाली थी। कुंजिया का कहना है वह अपनी सौतेली बेटी को पालकर बड़ा की पर उसकी शादी में इसको नहीं पूछा गया। उसने इस बात को अपने परिवार में रखा तो भैंसुर, देवर और गोतनी द्वारा अ‌र्द्धनग्न कर मारपीट की गई।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप