संसू, बरकट्ठा (हजारीबाग): एक सप्ताह पूर्व सिमरिया के चुगलगामो में अवैध खनन के दौरान विस्फोट में एक की मौत के बाद जिला प्रशासन के तेवर कड़े हो गए हैं। प्रखंड में चल रहे सभी अवैध खदानों पर उपायुक्त द्वारा कार्यवाही के आदेश के बाद शुक्रवार को टास्क फोर्स ने प्रखंड के सिजूआ और पंचरुखी में अवैध पत्थर खदान में छापेमारी की। इस दौरान एक हाइवा, ट्रैक्टर, कंप्रेशर मशीन, जेनरेटर पंप सहित सात पोकलेन जब्त किया है। जिला टास्क फोर्स की बरकटठा में अबतक का यह सबसे बड़ी कार्यवाही है। छापेमारी बरही एसडीओ कुमार ताराचंद, एसडीपीओ मनीष कुमार के नेतृत्व में हुई। सभी जब्त वाहनों को बरकट्ठा थाना लाया गया है। यहां सीओ वाहनों की जांच कर रहे है। समाचार लिखे जाने तक जांच चल रही थी। इस बाबत खनन पदाधिकारी के आवेदन पर प्राथमिकी दर्ज करने की कवायद की जा रही थी। ज्ञात हो कि प्रखंड में करीब 22 से अधिक बड़े अवैध खदान संचालित है। इनमें सबसे अधिक सिमरिया क्षेत्र में खदानें है। उपायुक्त ने पूरे मामले में कड़ी कार्यवाही का आदेश दिया था। शुक्रवार को इसकी झलक देखने को मिली। छापेमारी दल में वन विभाग के रेंजर, सीओ निर्मल सोरेन, सीआई फिरोज अख्तर, थाना प्रभारी बरकट्ठा राजेन्द्र कुमार महतो, गोरहर थाना प्रभारी अरुण कुमार सहित अन्य शामिल थे। थाना पहुंचे विधायक बरकटठा, कार्यवाही को बताया उचित वस्फोट की घटना के बाद अवैध खनन को लेकर मुखर बरकटठा विधायक अमित यादव ने अवैध खनन को लेकर मोर्चा खोल दिया था। बकायदा वीडीयो जारी कर जिला प्रशासन पर संरक्षण देने का आरोप भी लगाया था। शुक्रवार को कार्यवाही होने की सूचना पर विधायक बरकटठा थाना पहुंच कर मामले की जानकारी ली और कार्यवाही को उचित बताया । कहा कि वे लगातार अवैध खनन को लेकर मुखर थे और कई पत्र लिखकर इसे बंद कराने की मांग की थी।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021