जागरण संवाददाता हजारीबाग : हजारीबाग में पीडीएस के केरोसिन से अब तक अलग-अलग स्थानों पर आधा दर्जन विस्फोट हो चुके हैं। वहीं दो लोगों की मौत भी हो चुकी है। जागरण पड़ताल में यह बात सामने आई है कि 9 फरवरी की रात सदर प्रखंड के डूमर गांव पहला विस्फोट हुआ था। इसमें राम प्रवेश सिंह की 70 वर्षीय मां देवंती देवी दीया में तेल डालते समय बुरी तरह से झुलस गई थीं। 15 फरवरी को उनकी मौत हो गई। वहीं 14 फरवरी की शाम चुटियारो पंचायत के पारडीह में केदार राम की दो वर्षीय बच्ची सुषमा भी ढिबरी में हुए धमाके के चपेट में आ गई थी। रिम्स में इलाज के क्रम में सुषमा ने 16 फरवरी को दम तोड़ दिया था। छह घटनाओं में आठ लोग घायल हो चुके हैं। वहीं दूसरी ओर इस तरह की घटना के बाद प्रशासनिक अमला सकते में आ गया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए रांची से आपूर्ति विभाग के अपर मुख्य सचिव शांतनु अग्रहरि व फारेंसिक विभाग की टीम घटनास्थल पर पहुंची। लोगों से घटना की जानकारी लेने बाद अमनारी डीलर नागेश्वर प्रसाद व चुटियारो के डीलर से केरोसिन तेल का सैंपल जांच के लिए अपने साथ ले गए। जांच टीम को अमनारी निवासी तुलसी ठाकुर ने बताया कि सोमवार के शाम करीब छह बजे बिजली कट जाने के कारण लालटेन जलाया गया था। मेरी बहू सबिता देवी लालटेन में तेल डाल रही थी। जैसे ही लालटेन में तेल डालना शुरू किया वैसे ही केरोसिन तेल के डब्बे में आग लग गई और विस्फोट हो गया। इसमें मेरे दो पोता पवन कुमार, आयुष कुमार और मेरी बहू पूरी तरह झुलस गई। उसी गांव की रंजीता देवी पति सुदर्शन प्रसाद भी ढिबरी के फट जाने से झुलस गई। अपर मुख्य सचिव ने घटना को काफी गंभीर बताया।

--------------------------

13 जनवरी को आया था 11,774 लीटर केरोसिन, आवंटन पर रोक सदर प्रखंड क्षेत्र पीडीएस दुकानों में आवंटन के लिए 13 जनवरी को 11,774 लीटर केरोसिन आर्मी ट्रेडिग कंपनी के माध्यम से पहुंचा था। इसे 25 से 30 पीडीएस दुकानों में आवंटित किया गया है। ट्रेडिग कंपनी के द्वारा रांची से इसका उठाव किया गया था। लेकिन, जैसे ही विस्फोट की सूचना प्रशासन तक पहुंची है। सभी पीडीएस दुकानों से इसके आवंटन पर रोक लगा दी गई है। सभी दुकानों में इसकी सूचना चिपका दी गई है। साथ ही आइओसीएल की टीम को इसकी सूचना दी गई। रांची से पहुंची आइओसीएल की टीम भी इसका सैंपल लेकर गई है।

-----------------------

मुआवजे की मांग

मुखिया संघ के सचिव अनूप कुमार ने जख्मी परिवारों के लिए आप्त सचिव और डीसी से मुआवजा की मांग की है। इन्होंने इलाज में हुए खर्च के अलावा मृत व्यक्ति के लिए पांच लाख एवं जख्मी के लिए ढाई लाख रुपए की मांग की है।

-------------

तेल डालने के क्रम में हो रहा विस्फोट जांच में यह बात सामने आई कि सभी घटनाएं तेल डालने के क्रम में हुई हैं। तेल डालते ही अचानक लैंप या ढिबरी में विस्फोट हो रहा है। ऐसे में जांच के बाद ही अब स्पष्ट हो पाएगा कि केरोसिन में किसी प्रकार की मिलावट हुई है।

-------------

जांच के लिए सैंपल लिया गया है। आवंटन पर रोक लगा दी गई है। आइओसीएल की टीम भी जांच कर सैंपल ले गई थी। तेल में किसी प्रकार का केमिकल रिएक्शन हुआ या मिलावट हुई यह रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट हो पाएगा।

- आदित्य कुमार आनंद, उपायुक्त हजारीबाग

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021