संसू, चरही : प्रखंड के क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे दो प्रवासी मजदूरों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद से क्षेत्र के आस-पास के गांव में दहशत का माहौल बन गया है। हालांकि उक्त कोरंटीन सेंटर में कुल 17 लोग रह रहे थे। दोनों ही सक्रमित मरीज विगत दिनों पुणे, महाराष्ट्र से लौटे थे। दोनों युवक पुणे से पटना होते हजारीबाग पहुंचे थे। वहीं हजारीबाग से चुरचू पहुंचने के क्रम में वे कुछ दोस्तों के साथ मिले थे। इसे लेकर सोमवार को उनके परिजन में दो को क्वारंटाइन और चार लोगों को सीएचसी के आइसोलेशन में रखा गया है। क्षेत्र के ग्रामीणों को कहना है कि सेंटर में रह रहे अन्य सभी लोगों की भी गहन जांच होनी चाहिए। खाना पहुंचाने वालों से लेकर क्वारंटाइन सेंटर के दरबान तक की। कोरोना संक्रमण बढ़ती रफ्तार के साथ लोगों की लापरवाही भी बढ़ती जा रही है। लॉक डाउन में छूट मिलते ही लोग काफी बेपरवाह हो रहे हैं। घरों से बाहर निकलते भी हैं तो बिना मास्क लगाए। हाट बाजारों में शारीरिक दूरी का पालन को लोग बिल्कुल ही भूलते नजर आते हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस