कटकमदाग : आरपीएफ द्वारा पिछले दिनों पदमा से कुरहागढ़ा स्टेशनों के बीच रेलवे पटरी से हुई पेंड्रॉल क्लिप की चोरी का खुलासा किया गया है। रेल पुलिस ने झाड़ी में छिपा कर रखा गया रेलवे पटरी का 30 पेंड्राल क्लिप बरामद किया है। हजारीबाग टाऊन स्टेशन स्थित आरपीएफ थाना द्वारा पेंड्राल क्लीप के साथ एक व्यक्ति को गिरफ्तार भी किया गया है जो पदमा थाना के गारूकुरहा निवासी स्व. चेतू राणा के पुत्र बद्री राणा बताया जाता है। आरपीएफ ने पकड़े गए आरोपी को धनबाद जेल भेज दिया है। पेंड्राल क्लिप की बरामदगी के तत्काल बाद रेलवे द्वारा पटरी में निकाला गया पेंड्राल क्लिप लगा दिया गया। उस लाइन से मालगाड़ी सहित लोकल ट्रेन गुजरती है। इससे उस लाइन पर संभावित हादसा टल गया। आरपीएफ अधिकारियों ने बताया कि पेंड्राल क्लीप लगातार खोलने से पटरी खिसकने का डर रहता है। संयोग था कि पेंड्राल लगातार नहीं खोला गया था। इससे दुर्घटना होने से बच गई। आरोपी द्वारा बताया गया कि पेंड्राल क्लिप से वह छेनी जैसा घरेलू औजार बनाता था। मामले में रेलवे पुलिस के इंस्पेक्टर अशोक कुमार ने बताया कि सूत्रों द्वारा जानकारी मिली थी कि पदमा से कुरहागढ़ा स्टेशनों के बीच पेंड्राल की चोरी हो गई है। इस मामले में ही पदमा थाना के गारूकुरहा निवासी स्व. चेतू राण के पुत्र बद्री राणा को गिरफ्तार किया गया। बद्री राणा द्वारा की निशान देही पर झाड़ी में छिपा कर रखे 30 क्लीप बरामद किया गया। पकड़े गए आरोपी द्वारा बताया गया कि लोहारी भांथी में गरम करके पेंड्राल क्लीप से छेनी बनाया जाता था। गिरफ्तार बद्री राणा को हजारीबाग रेलवे मजिस्ट्रेट धनबाद के समक्ष प्रस्तुत किया गया, जहां से उसे 14 दिनों के लिए न्यायिक हिरासत में धनबाद जेल भेज दिया गया । छापामारी दल के नेतृत्व कर रहे एएसआई चन्द्र देव प्रसाद, आरक्षी पवन कुमार ¨सह, प्रीतम कुमार पासवान कर रहे थे।

Posted By: Jagran