संवाद सूत्र,गुमला: नेहरू युवा केन्द्र के कंट्री को-आर्डिनेटर अरूण शाहदेव ने कहा है कि आज के ही युवा ही कल के भविष्य है। गुमला में शनिवार को संपन्न दो दिवसीय जिला युवा संसद कार्यक्रम को वर्चुअल रैली के माध्यम से संबोधित करते हुए अरुण शाहदेव ने उक्त बातें कहीं। उन्होंने कहा कि भारत गांवों का देश हैं। जब गांव का विकास होगा तो देश का विकास होगा। युवा ही विकास के वाहक हैं। युवाओं को सबसे पहले अपने व्यक्तित्व का विकास करना होगा। देश का विकास युवाओं के हाथ में है इससे पहले युवा को अपने व्यक्तित्व, उसके बाद घर परिवार समाज और गांव का विकास में सहभागिता निभाना होगा। युवाओं को समस्या नहीं बल्कि समाधान का हिस्सा बनना चाहिए। नेशनल प्रोजेक्ट मैनेजर देवजनी समंतराय ने कहा कि भारतीय सांसद इस देश का सबसे बड़ा लोकतांत्रिक मंदिर है और उसी का एक हिस्सा राष्ट्रीय युवा सांसद है। जनता से चुनकर संसद पहुंचने वाले प्रतिनिधियों का विकास के लिए आखिर उनका रोल क्या है उसका एक प्रारूप है राष्ट्रीय युवा संसद। जिला युवा समन्वयक मोना प्रेरणा सुरीन ने कहा कि जिला युवा संसद कार्यक्रम के माध्यम से युवा अपने विचारों का राष्ट्रीय स्तर पर आदान प्रदान कर सकते हैं। नेहरू युवा केंद्र के माध्यम से प्रत्येक वर्ष दिल्ली में राष्ट्रीय युवा संसद का कार्यक्रम होता है। इसबार गुमला से निभा कुमारी और दीपक कुमार साहु का चयन युवा संसद के लिए हुआ है। इस वर्चुअल कार्यक्रम में जिला युवा संसद कार्यक्रम में जज की भूमिका पर रिटायर्ड प्रोफेसर भूषण महतो, प्रो.बीएन पांडेय, रिटायर हिदी शिक्षक डोमन राम मोची, सीलम पंचायत समिति के खुशमन नायक आदि मौजूद थे।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस