संवाद सूत्र,गुमला : विभाग निरीक्षक जय किशोर कुमार की अध्यक्षता में सोमवार को सरस्वती शिशु विद्या मंदिर के शिक्षक-शिक्षिकाओं की बैठक विद्यालय भवन में हुई। जिसमें विद्यालय परिसर में पीसीपी पथ को लेकर पिछले दिनों हुए विवाद की चर्चा करते हुए घटना की भ‌र्त्सना की गई। शिक्षकों पर लगे आरोप को निराधार करार दिया गया। कहा गया कि शिक्षक अपना संपूर्ण जीवन बच्चों के शिक्षा दीक्षा एवं चरित्र निर्माण में लगा दिए हैं, उनके चरित्र पर आरोप लगाना उचित नहीं है। शिक्षक युवावस्था पूर्ण कर वृद्धावस्था के दहलीज पर पांव रख चुके हैं, अब तक उन शिक्षकों पर कभी दाग नहीं लगा है। विद्यालय में हुए विवाद और शिक्षकों पर लगाए गए आरोप राजनीतिक दुर्भावना से ग्रसित है। इससे संपूर्ण शिक्षक समुदाय कलंकित हुआ है। बैठक में प्राचार्य सुनील कुमार पाठक, राजबल्लभ मिश्र, मीडिया प्रभारी अमित कुमार सहित सभी शिक्षक-शिक्षिका उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस