संवाद सहयोगी, गुमला : उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा ने कहा कि अभियंता हर क्षेत्र में काम करते हैं। बिना अभियंता के विकास की कल्पना अधूरी है। हर निर्माण का कार्य में अभियंता की सोच छिपी होती है। उपायुक्त बुधवार को गुमला पालिटेक्निक के सभागार में अभियंता दिवस पर आयोजित कार्यक्रम को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि भारत के महान अभियंता मोक्षगुंडम विश्वेश्वरय्या का जन्म दिन को अभियंता दिवस के रुप में मनाया जाता है। आज उनके विचारों को आत्मसात करने की जरुरत है। आप भी अपने क्षेत्र में कुछ नया करने का संकल्प लें। अभियंत्रण का विस्तृत क्षेत्र है। उन्होंने कहा कि स्व. कार्तिक उरांव ने एचइसी की नींव रखी थी। आप भी अपनी पहचान बनाएं और बुलंदियों को छूएं। उन्होंने छात्र छात्राओं से कहा कि कोविड 19 का खतरा कम नहीं हुआ है। सरकारी गाइडलाइन का पालन करें। मौके पर वन प्रमंडल पदाधिकारी श्रीकांत ने कहा कि जीवन में कई तरह की चुनौतियां हैं। इन चुनौतियों का सामना करना और रास्ता निकालने का प्रयास होना चाहिए। तकनीकों से समस्याआों का समाधान करें और आगे बढ़ें। कार्यक्रम को एसडीओ रवि आनंद, डीपीआरओ डीएन भादुड़ी ने भी संबोधित किया। मौके पर छात्र छात्राओं द्वारा बनाए गए माडल का उपायुक्त ने अवलोकन किया। बैट्री चालित साइकिल देख उपायुक्त काफी खुश हुए। वहीं मोबाइल से लाइटिग कंट्रोल , सैनिटाइज्ड करने के नए नए तरकीब, कचरों से तैयार गैस आदि माडल की प्रशंसा की। वहीं बेहतर माडल का प्रदर्शन करने वाले ऋषि कुमार चौधरी (इलेक्ट्रिकल), रोहित कुमार (इलेक्ट्रिकल), रेनू पल्लवी तिग्गा (इलेक्ट्रिकल), स़कलैन लरैब (इलेक्ट्रिकल) 7 द्वितीये पुरुष्कृत छात्र - मैकल मिज (मेकेनिकल), विवेक मुंडा (मेकेनिकल), गुलशन उरांव (मेकेनिकल), जीतेन्द्र उरांव (मेकेनिकल) 7 हिमांशु गुप्ता (सिविल), केशव कुमार (सिविल), कृष्णा कच्छप (सिविल), दीपक कुमार (सिविल), उज्जवल कुमार (सिविल), रोहित उरांव (सिविल), कृतम कुमार (इलेक्ट्रिकल), दीपक कुमार (इलेक्ट्रिकल), गोपाल चंद्र दास (इलेक्ट्रिकल को पुरस्कृत किया गया। मौके पर निदेशक अभीजीत कुमार, प्राचार्य डा. शिव नारायण साहु, उप प्रचार्य सुरेंद्र प्रसाद, एडमिनिस्ट्रेटिव हेड अजीत कुमार शुक्ला, मनीष कुमार आदि मौजूद थे।

Edited By: Jagran