संवाद सहयोगी, गोड्डा : सदर अंचल की घाट कुशमनी पंचायत में श्मशान की भूमि को अतिक्रमणकारियों से मुक्त करा लिया गया है। गुरुवार को प्रशिक्षु आइएएस ऋतुराज की मौजूदगी में जमीन से कब्जा हटाया गया। इस दौरान अंचल अधिकारी प्रदीप कुमार शुक्ला सहित पुलिस बल भी मौजूद थे। अधिकारियों ने वहां श्मशान की जमीन को घंटों मशक्कत के बाद कब्जा से मुक्त कराया। इस संबंध में ग्रामीणों ने जिला प्रशासन से शिकायत की थी कि यहां कतिपय दबंग लोगों श्मशान की जमीन को कब्जा कर खेती कर रहे हैं। इस संबंध में कई बार शिकायत की गयी। इधर ग्रामीणों की शिकायत पर लगभग 31 लोगों को नोटिस भी दिया गया था लेकिन नोटिस के बाद भी श्मशान की लगभग सात बीघा जमीन जो सड़क के किनारे थी, पर कब्जा छोड़ने को तैयार नहीं थे। इधर नोटिस के बाद भी जब जमीन खाली नहीं की गई तो शुक्रवार को अंचलाधिकारी सदलबल जेसीबी के साथ गये। वहां कब्जाधारियों ने पहले से बोई गयी धान की फसल को काट लिया था। अंचलाधिकारी की मौजूदगी में अवैध रूप से कब्जा कर खेत व अड्डा बनाये गये श्मशान की जमीन से हटाया गया।

इस बाबत अंचल पदाधिकारी प्रदीप कुमार शुक्ला ने बताया कि श्मशान की सात बीधा जमीन पर जबरन खेती की जा रही थी। पहले नोटिस दिया गया था कि वे अवैध कब्जा को खाली कर दें लेकिन जमीन को नहीं छोड़ा गया। इसके बाद गुरुवार को कार्रवाई की गयी। बताया कि श्मशान की जमीन को अवैध कब्जा से मुक्त करा दिया गया है। वैसे लोगों को भी चिन्हित कर लिया गया है जो कब्जा किये हुए थे। कहा कि अगर दोबारा से कब्जा का प्रयास हुआ तो अब कानूनी कार्रवाई होगी व थाना में मामला दर्ज किया जायेगा।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस