जागरण टीम, गोड्डा : राज्य के साथ जिले में कोरोना संक्रमण का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है। जांच में जहां पहले नहीं के बराबर या फिर कई दिनों के बाद एक दो मरीज मिलते थे। आज यह संख्या हर दिन बढ़ती जा रही है। शनिवार को यह संख्या बढ़कर 40 के पार पहुंच चुकी है। सक्रिय मामले की संख्या 150 के पार पहुंच चुकी है। दुखद पहलू यह है कि लगातार बढ़ रहे संक्रमण के बाद भी लोग सचेत नहीं हो रहे हैं। कोविड नियमों का पालन कहीं से भी होता नहीं दिख रहा है। न लोग नियम का पालन कर रहे है न ही व्यवस्था के स्तर से ठोस पहल हो रही है। यह लापरवाही अगर नहीं रुकी तो मामला अधिक बिगड़ सकता है। हाट बाजार से लेकर माल व बस स्टैंड तक में नियम का पालन नहीं हो रहा है। अधिकतर लोग मास्क तक नहीं लग रहे हैं। शारीरिक दूरी पालन भी अधिकतर सार्वजनिक जगहों पर नही हो रहा है। ऐसे में प्रशासन को चाहिए कि जहां से कोरोना मरीज मिले रहे हैं। ऐसे इलाकों में माइक्रो कं टेनमेंट जोन बनना चाहिए। ताकि कोरोना के बढ़ते प्रसार को रोका जा सके। सरकार के स्तर से जारी किया गया कोविडरोधी प्रोटोकाल व लागू मिनी लाकडाउन कही से कारगर होता नहीं दिख रहा है। यही कारण है कि भीड़ कम नहीं हो रहे है व नियम का पालन नहीं हो पा रहा है। जिलावासी दूसरी लहर की भयावह स्थिति देख चुके है। वही दूसरी ओर कोरोना संक्रमण की जद में लगातार अधिकारी व कर्मी भी आ रहे है। ऐसे में कुछ दिनों के लिए राज्य से स्तर से सार्वजनिक परिवहन पर रोक जरूरी है। जिला प्रशासन को सख्ती बढ़ानी होगी इसके साथ ही लोगों को भी नियम का पालन करना होगा।

-

शहर में चलाया गया सघन मास्क चेकिग अभियान : जिला मुख्यालय के विभिन्न चौक चौराहों पर कोरोना संक्रमण के चैन को तोड़ने के लिए सघन मास्क चेकिग अभियान दंडाधिकारी की मौजुदगी में पुलिस बल ने चलाया। जहां नियम का उल्लंघन करनेवालों से जुर्माना वसूला गया। इसके साथ ही नियम का उल्लंघन करने वाले को हिदायत दी गई कि कोरोनारोधी नियम का पालन करें। ताकि महामारी कोरोना संक्रमण के चेन को तोड़ा जा सके। जिला में कोरोना की रफ्तार बढ़ती ही जा रही है।

-

यात्री की आवाजाही में कमी : जिले में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बाद से यात्री की आवाजाही में कमी आई है। जहां लोग लंबी दूरी की यात्रा से परहेज कर रहे है। वही अन्य जिला में कोरोना मरीज की संख्या लगातार बढ़ रही है। इसके कारण भी लोग यात्रा से बच रहे है। लेकिन सुबह के वक्त आनेवाली रांची व कोलकात्ता गाड़ी से आये यात्री की जांच के लिए अबतक व्यवस्था नहीं हो पाई है। लोग भी जांच से कतरा रहे हैं। पुलिस बल की कमी के कारण भी समस्या हो रही है। जिसके कारण जिले में कोरोना जांच की रफ्तार में तेजी नहीं आ पा रही है।

Edited By: Jagran