संवाद सहयोगी, गोड्डा : झारखंड बार काउंसिल के निर्देश के आलोक में सूबे के पलामू व्यवहार न्यायालय के प्रभारी प्रधान जिला जज पंकज कुमार द्वारा जिला अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष के साथ किये गये दु‌र्व्यवहार की घटना को लेकर मंगलवार को अधिवक्ताओं ने न्यायालय कार्यों से अलग रहकर किसी भी केस की पैरवी नहीं की। इसके कारण दूरदराज क्षेत्र से आने वाले लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा।

इस संबंध में अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष सुशील कुमार झा की अध्यक्षता में संघ परिसर के लाइब्रेरी हाल में अधिवक्ताओं ने बैठक कर इसकी भ‌र्त्सना की। झारखंड बार काउंसिल के सदस्य धर्मेद्र नारायण ने कहा कि पलामू में जिला जज द्वारा अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष के साथ मारपीट करने की घटना पर खेद व्यक्त किया।

झारखंड बार काउंसिल के निर्देश के आलोक में अधिवक्ताओं ने न्यायिक कार्यों से अलग रहने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि बार व बैंच के बीच परस्पर तालमेल से ही न्यायालय का कामकाज बेहतर तरीके से संचालित हो सकता है। ऐसे में जिला जज को इस प्रकार का बर्ताव करना दुर्भाग्यपूर्ण है। इसके अलावा जहीर अहमद, केडी सहाय, सीताराम यादव, अंबोद कुमार ठाकुर, सर्वजीत झा, चेतन कुमार झा, श्यामल कुमार ठाकुर आदि ने भी विचार व्यक्त किये।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस