बसंतराय : लोकसभा चुनाव की सरगर्मी सिर चढ़ कर बोलने लगी है। बीते दो दिनों से सत्ता व विपक्ष की ओर से बसंतराय क्षेत्र में अपनी सक्रियता बढ़ा दी गई है। बीते गुरुवार को जहां भाजपा प्रत्याशी निशिकांत दुबे ने दर्जनभर गांवों में दौरा कर चुनावी चौपाल लगाई वहीं शुक्रवार को महागठबंधन के प्रत्याशी सह जेवीएम विधायक प्रदीप यादव ने बसंतराय प्रखंड के कई गांवों का दौरा किया। यादव ने इस दौरान जहां खुद को गोड्डा का धरती पुत्र बताया, वहीं कहा कि उन्होंने अडानी के खिलाफ लड़ाई लड़ी और जेल गए। इसका कोई अ़फसोस नहीं है। कहा कि उनकी लड़ाई अडानी के उद्योग से नहीं है, बल्कि उस प्रोजेक्ट के लिए अधिग्रहित की गई जमीन के एवज में किसानों को उचित मुआवजा दिलाने के मकसद से आंदोलन किया गया। उन्होंने कहा कि जेवीएम औद्योगिक विकास का विरोध नहीं करता है। यदि किसानों को उनकी जमीन का उचित मुआवजा मिले तो उद्योग का कोई विरोध नहीं होगा। कहा गांवों में पानी की ज्वलंत समस्या है। पूरे लोकसभा क्षेत्र में जनता इसे झेल रही है।

Posted By: Jagran