गोड्डा : हाई स्कूल शिक्षक नियुक्ति परीक्षा का परिणाम बीते 8 माह से बाधित है। इतिहास व नागरिक शास्त्र विषय के शिक्षकों की बहाली रुकी हुई है। गोड्डा जिले में इस विषय के 72 पदों के लिए सैकड़ों अभ्यर्थियों ने परीक्षा दी थी लेकिन उसका रिजल्ट अबतक नहीं निकल पाया है। झारखंड कर्मचारी चयन आयोग ने अनुसूचित जिले के साथ गोड्डा जिले का भी रिजल्ट रोक रखा है। इस मुद्दे पर बुधवार को हाईस्कूल शिक्षक अभ्यर्थी संघ का शिष्टमंडल महागामा विधायक अशोक भगत से मिला और उन्हें अपनी समस्याओं से रूबरू कराया। कहा कि अन्य विषयों में शिक्षक नियुक्ति पूरी कर ली गई है। वहीं इतिहास और नागरिक शास्त्र विषय का फाइनल रिजल्ट रोक दिया गया। झारखंड उच्च न्यायालय ने इतिहास और नागरिक शास्त्र का रिजल्ट से रोक हटा लिया है और याचिका को खारिज करते हुए इतिहास विषय के शिक्षकों की नियुक्ति ही हरी झंडी दे दी गई है। जेएसएससी को उच्च न्यायालय ने आदेश भी दे दिया है कि इतिहास और नागरिक शास्त्र का जो रिजल्ट रुका हुआ है उसे जारी करें फिर भी बीते आठ माह से इसे लटका कर रखा गया है। विधायक अशोक भगत ने इस मामले में मुख्यमंत्री से पहल कराकर समाधान निकालने का आश्वासन दिया है। कहा कि अगले महीने से चुनावी प्रक्रिया शुरू होने वाली है। इसीलिए जेएसएससी को जल्द से जल्द रिजल्ट जारी करना चाहिए। आचार संहिता लग जाने के बाद नियुक्ति फिर से अटक जाएगी। अभ्यर्थियों ने मुख्यमंत्री और शिक्षा मंत्री से भी मांग की है कि वे इतिहास और नागरिक शास्त्र का फाइनल रिजल्ट जारी करने का निर्देश जेएसएससी को दें।

बता दें कि इस मामले में झारखंड कर्मचारी चयन आयोग का कहना है कि सोनी कुमारी प्रकरण पर हाई कोर्ट से स्टे होने के कारण अभी रिजल्ट जारी नहीं किया गया है। अभ्यर्थियों ने कानून विदों से सलाह ली तो यह बात सामने आया कि सोनी कुमारी का प्रकरण राज्य के 13 अनुसूचित जिलों के लिए है, इसमें गोड्डा जिला शामिल नहीं है। लिहाजा जेएसएससी को गोड्डा का रिजल्ट जारी करने में कोई वैधानिक परेशानी नहीं है। मौके पर अभ्यर्थियों के शिष्टमंडल में विवेकानंद कुमार, उमेश कुमार, अमरेश कुमार यादव, नचिकेता कुमार, मुकेश कुमार, नरेश कुमार, पंकज कुमार और जेम्स मरांडी आदि शामिल थे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप