संवाद सहयोगी, गोड्डा : वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण की चैन को तोड़ने के लिए सरकार के जारी निर्देश का दूसरे सप्ताह भी जिला मुख्यालय में खासा असर दिखा। जिला मुख्यालय में बाजार व दुकानें बंद रही। वहीं लोगों की आवाजाही भी कम रही। नियम के पालन कराने के लिए पुलिस को ज्यादा मशक्कत नहीं करनी पड़ी। हालांकि विभिन्न चौराहे पर मास्क व वाहनों की जांच हो रही थी। इस दौरान रुक-रुक कर हो रही मानसूनी बारिश ने भी वीकेंड लॉक डाउन को असरदार बनाया। जिसके कारण भी लोग सड़कों पर न के बराबर दिख रहे थे। शनिवार की शाम की चार बजे से वीकेंड लॉक डाउन शुरू हुआ। जहां चार बजते ही नगर थाना पुलिस सक्रिय हो गई। समय होने के बाद भी नियम तोड़कर दुकान चला रहे कुछ दुकानदार को हिदायत देकर दुकान बंद कराया गया। इसके बाद से लगातार क्षेत्र में पुलिस गश्ती होती रही। रविवार की सुबह से ही पुलिस सक्रिय रही। इस दौरान कुछ दुकानदारों ने अपनी दुकान को खोलने का भी प्रयास किया। लेकिन पुलिस की सख्ती देख शटर गिराना ही मुनासिब समझा। वीकेंड लाकडाउन को लेकर शहर के भागलपुर रोड, मुख्य बाजार, न्यू मार्केट, कहचरी रोड्, कारगिल चौक, रौतारा चौक पर सन्नाटा रहा। दिखने लगा लाकडाउन का असर: शनिवार की शाम से अब 38 घंटा का वीकेंड लॉकडाउन लगाया जा रहा है। जिसका असर भी दिख रहा है। कोरोना संक्रमण के चैन को तोड़ने में कारगर साबित हो रहा है। जिला में हाल के दिनों में लोगों के लापरवाही के बाद भी कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी आई है। दूसरी लहर की स्थिति को देख लोग भी वीकेंड लाकडाउन के निर्णय को सही मान रहे हैं। --- शर्त के साथ वीकेंड लाकडाउन जरूरी : योगेश

गोड्डा : जिला बार एसोसिएशन के महासचिव योगेश चंद्र झा ने कहा कि ऐसे समय में जब तीसरी लहर का खतरा बना हुआ है। तो सरकार के वीकेंड लाकडाउन को जारी रखने का निर्णय सही है। ताकि कोरोना के संक्रमण पर पूर्ण रूप से काबू पाया जा सके। दुखद पहलू है कि लोग भी अब नियम तोड़कर बिना मास्क के सड़कों पर निकल रहे हैं। जिलेवासियों को कोरोना संक्रमण काल में सावधानी बरतने की जरूरत है। सरकार को परिवहन व्यवस्था में राज्य के अंदर बस को चलाने की अनुमति देनी चाहिए। वीकेंड लाकडाउन के दौरान लोगों को सब्जी व दूध मिले। इसकी व्यवस्था होनी चाहिए। ताकि लोगों को सहुलियत हो सके। कोरोना संक्रमण का खतरा अभी टला नहीं है। लोगों को वैक्सीन लेने के साथ ही नियम का पालन करना चाहिए। ---------- वीकेंड लाकडाउन को लेकर नगर थाना पुलिस के अलावा अतिरिक्त पुलिस से गश्ती कराई गई। सरकार के जारी निर्देश का शहर में पालन किया जा रहा है। रविवार को बाजार बंद रहा। इसमें आम लोगों का भी सहयोग मिल रहा है। सभी के प्रयास से ही कोरोना संक्रमण का चैन टूटेगा। पुलिस प्रशासन अपना काम कर रही है। इसके साथ ही लोगों को भी नियम का पालन करने के लिए प्रेरित कर रही है। आवश्यक होने पर ही लोग मास्क पहनकर घर से बाहर निकलें। अनावश्यक बाजार आने व भीड़ भाड़ वाली जगहों से बचें। जिन्होंने वैक्सीन नही लिया है वे लोग जल्द ही वैक्सीनेशन करा लें। - मुकेश कुमार पांडेय, पुलिस निरीक्षक सह नगर थाना प्रभारी, गोड्डा।

----------------

बढ़ी लापरवाही, मास्क की बिक्री में कमी

गोड्डा : कोरोना वायरस के संक्रमण की दूसरी लहर के बाद लोगों सतर्कता दिखाई थी। यह सतर्कता अब लापरवाही में बदलती जा रही है। लोग अब नियम तोड़ने से बाज नहीं आ रहे है। वैक्सीनेशन में आई तेजी के बाद तो लोगों के चेहरे से मास्क उतारने लगे हैं। बड़ी संख्या में लोग अब बिना मास्क पहने बाजार व सड़कों पर नजर आ रहे हैं। दुकानों में भी मास्क की बिक्री में भी कमी आई है। नगर परिषद उपाध्यक्ष वेणु चौबे ने कहा कि खतरा बना हुआ है। सभी लोग कोविड 19 के संक्रमण से बचाव के लिए जारी नियम का पालन करें। कोविडरोधी टीकाकरण के बाद भी मास्क व शारीरिक दूरी जरूरी है।

Edited By: Jagran