ठाकुरगंगटी : प्रखंड क्षेत्र के शिल्कग्राम भगैया में डेंगू बुखार का कहर संबंधी खबर दैनिक जागरण में मंगलवार के अंक में प्रकाशित होने के बाद चिकित्सा विभाग के अधिकारी हरकत में आए है। प्रभारी सिविल सर्जन डॉ मंटू टेकरीवाल की अगुवाई में विशेष चिकित्सकीय दल को त्वरित उपचार करने के लिए भगैया गांव का दौरा किया। विशेष चिकित्सकीय टीम ने डेंगू बुखार से पीड़ित लोगों की जांच की। इसके अलावा कुछ घरों में जाकर मरीजों की पड़ताल की गई। भगैया के हीरा खुटहरी मोहल्ले के एक गली में फॉगिग मशीन से दवा का छिड़काव करने की बात हो रही है लेकिन अबतक छिड़काव नहीं किया गया है । गांव के युवा मोनू कुमार, सन्नी कुमार सहित कई ग्रामीणों ने बताया कि सिल्क ग्राम भगैया के सभी टोले-मोहल्ले, गलियों, सड़क किनारे, तालाब किनारे, चापानल के निकट, कुएं के निकट सहित सभी जगहों पर छिड़काव करने की आवश्यकता है। घर-घर डेंगू सहित अन्य प्रकार की बुखार एवं बीमारियों के जांच की सख्त जरूरत है। क्योंकि बीमारी कभी भी किसी के भी घर में और किसी भी व्यक्ति में प्रवेश कर सकती है। हीरा खुटहरी गांव के तालाब किनारे निवास करने वाले के घरों के व्यक्ति ही डेंगू बुखार से पीड़ित हुए हैं । कई लोग पिछले चार दिनों से ही पीड़ित हैं। गांव में प्राइवेट चिकित्सक से इलाज करा रहे हैं। बीते सोमवार को प्राइवेट में ही जांच कराने के बाद लोगों को पता चला कि डेंगू बुखार का प्रकोप यहां है। ग्रामीणों ने दैनिक जागरण को प्रमुखता से खबर प्रकाशित करने के लिए बधाई भी दी। ग्रामीणों ने चिकित्सकों और चिकित्सा कर्मियों को अविलंब इलाज के लिए हीरा खुटहरी भगैया में विशेष कैंप लगाने की मांग की है। इधर गंगटी प्रखंड मुख्यालय स्थित हरि देवी रेफरल अस्पताल की चिकित्सकीय टीम को भी हीरा खुटहरी भगैया भेजा गया है। अस्पताल के प्रधान सहायक विनय कुमार सिन्हा से बताया कि जिले से भी विशेष चिकित्सकीय दल भगैया गया है । प्रभावित गांवों में फॉगिग मशीन से दवा का छिड़काव कराया जाएगा। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ खालिद अहमद भी टीम के साथ गए हैं।

--------------------

हर बुखार को डेंगू नहीं कहा जा सकता है। इसकी जांच की जा रही है। कुछेक में मौसम परिवर्तन के कारण ही बुखार के लक्षण पाए गए हैं। ठाकुरगंगटी के रेफरल अस्पताल में इलाज की समुचित व्यवस्था की गई है। प्रभावित गांवों में फॉगिग मशीन से दवा छिड़काव का निर्देश दिया गया है। रेफरल अस्पताल की टीम भी लगी हुई है। स्थिति नियंत्रण में है। - डॉ मंटु टेकरीवाल, प्रभारी सिविल सर्जन गोड्डा।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस