संवाद सहयोगी, मेहरमा: नाबालिग छात्रा को समुदाय विशेष के युवक की ओर से शादी की नियत से बहला-फुसलाकर भगा ले जाने के मामले को पुलिस ने गंभीरता से लेते हुए 72 घंटे के अंदर रविवार की अलसुबह बरामद कर लिया। आरोपित मुख्तार अंसारी को गिरफ्तार कर लिया गया। इसके बाद नाबालिग को मेडिकल जांच के लिए सदर अस्पताल तथा आरोपित युवक को जेल भेज दिया है। अलग-अलग समुदाय के होने के कारण पुलिस के लिए यह चुनौती बनी हुई थी। गांव में भी तनाव व्याप्त था। अपहर्ता की बरामदगी में आरोपित युवक के स्वजनों ने भी भरपूर सहयोग किया। गुरुवार को नाबालिग के स्वजनों ने मेहरमा थाना में आरोपित युवक, उसके भाई व अन्य सहयोगियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराकर नाबालिग की बरामदगी की गुहार लगाई थी। थाना प्रभारी पल्लवी कुजूर ने बताया कि शिकायत के बाद पुलिस तलाश में जुट गई थी। इसी क्रम में पुलिस को सूचना मिली कि दोनों कोलकाता से बस पर सवार होकर हंसडीहा (दुमका) आ रहे हैं। वहां से कहीं अन्य जगह भागने की फिराक में हैं। पुलिस ने जाल बिछाया और उन्हें हंसडीहा बस स्टैंड से गिरफ्तार कर लिया गया। थाना प्रभारी पल्लवी कुजूर के नेतृत्व में गठित टीम में दारोगा प्रवीण कुमार मोदी, मनोज पांडे सहित पुरूष व महिला पुलिस बल शामिल थे।

Edited By: Jagran