महागामा : बुधवार की शाम को महागामा थाना परिसर में दुर्गा पूजा को लेकर शांति समिति की बैठक आयोजित की गई। मुख्यालय डीएसपी केके सिंह , महागामा अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी डॉ वीरेंद्र चौधरी आदि उपस्थित थे। बैठक की अध्यक्षता महागामा थाना प्रभारी सूरज कुमार कर रहे थे। बैठक में थाना प्रभारी ने कहा कि सभी पंडालों में सीसीटीवी कैमरा लगवाना अनिवार्य है। इससे शरारती तत्वों पर निगरानी रखने में आसानी होगी। पुलिस प्रशासन शरारती तत्वों पर कड़ी नजर रखेगा। शराब आदि नशीली चीजों का सेवन कर भीड़ में कोई भी व्यक्ति शामिल नहीं हो तो उसे तत्काल गिरफ्तार किया जाएगा। डीएसपी सिंह ने कहा कि किसी प्रकार की अफवाह पर ध्यान नहीं दें। किसी भी प्रकार की संदिग्ध सूचना प्रशासन को दें ताकि उस पर त्वरित करवाई हो सके। महागामा में मेले की भीड़ देखते हुए पुलिस अधीक्षक के द्वारा ड्रोन कैमरा भी दिया गया है जिससे मेले पर ड्रोन कैमरे के द्वारा नजर रखी जाएगी ताकि किसी भी तरह की कोई भी अप्रिय घटना घटने पर उस संदिग्ध व्यक्ति की पहचान आसानी से कर ली जाएगी । वहीं अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी डॉ वीरेंद्र कुमार चौधरी ने कहा कि कहा कि महागामा में दुर्गा पूजा में सबसे ज्यादा भीड़ होती है। लोग काफी दूर-दूर से मेला देखने यहां आते हैं। बैठक में बीस सूत्री अध्यक्ष कृष्ण मुरारी चौबे , विधायक प्रतिनिधि सूरज जयसवाल , पप्पू ठाकुर , कुवँर गोपाल सिंह , दयाशंकर ब्रह्म , कौशलेष झा , मनीष भगत , संजय जयसवाल , बसुआ पंचायत के मुखिया रहीम अंसारी , रविकांत शंकर जयसवाल , ब्लू भगत , रामा शंकर जयसवाल , सुरेंद्र किस्कु सहित अनेकों गणमान्य लोग उपस्थित थे।

-------------------

ठाकुरगंगटी :ठाकुरगंगटी थाना परिसर में गुरुवार को दुर्गा पूजा को ले शांति समिति की बैठक होगी। जिसमें थाना क्षेत्र के विभिन्न गांवों के गणमान्य , ग्रामीण , जनप्रतिनिधि , दुर्गा पूजा समिति के अध्यक्ष , सचिव ,प्रभारी आदि भाग लेंगे । थाना प्रभारी प्रेमचंद्र भगत ने जानकारी देते हुए बताया यह बैठक आवश्यक होगी इसलिए थाना क्षेत्र के ग्रामीणों , बुद्धिजीवियों , खासकर दुर्गा पूजा समिति के पदाधिकारियों , सदस्यों , पंचायत प्रतिनिधियों से आग्रह होगा कि वे समय निकालकर 10:30 बजे दिन में थाना में होने वाली शांति समिति की बैठक में निश्चित रूप से भाग लेने का कष्ट करें। इस बैठक में प्रखंड क्षेत्र में चल रहे नवरात्र , दुर्गा पूजा , पंडाल , मेला , सांस्कृतिक कार्यक्रम , अनुज्ञप्ति व अन्य विषय पर विस्तारपूर्वक आवश्यक विचार-विमर्श किया जाएगा । अगर किसी गांव के ग्रामीणों या पूजा समिति सदस्यों को किसी प्रकार की कोई समस्या नजर आवे तो वे बेहिचक बैठक में बात रखने का प्रयास करेंगे।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप