मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

गोड्डा : टीबी एवं कुष्ठ उन्मूलन पखवाड़ा के तहत जिले भर में एक जुलाई से कुष्ठ ओर टीबी रोगी खोज अभियान चल रहा है। गोड्डा में बीते चार दिन में खोजी टीम ने लक्ष्य को पूरा किया है। हालांकि मानसून के दस्तक से बारिश के कारण टीम को कार्य में परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इसके बावजूद टीम द्वारा बेहतर प्रदर्शन किया जा रहा है। मानसून आगमन की वजह से टीम में शामिल कर्मी को घर-घर तक पहुंचने में परेशानी हो रही है। जानकारी के अनुसार गोड्डा जिले की कुल आबादी 15,12,857 है। इनमें से 4,68,571 लोगों की जांच करने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए 1312 महिला व 1312 पुरुष स्वास्थ्यकर्मी को कुष्ठ और टीबी जांच में लगाया गया है। एक महिला और एक पुरुष स्वास्थकर्मी को मिलाकर एक टीम बनाया गया है। सभी टीम को प्रतिदिन 20 घर में कुष्ठ और टीवी की जांच करने का लक्ष्य है। टीम की जांच के लिए 279 सुपरवाइजर रखे गए हैं। छह दिन जांच अभियान चलेगा व रविवार को छुटे हुए लोगों की जांच की जाएगी। कुष्ठ और टीवी की जांच के लिए एक जुलाई से गोड्डा सदर में 231 टीम, पोड़ैयाहाट में 218 टीम, सुन्दरपहाड़ी में 80 टीम, महागामा में 224 टीम, पथरगामा में 184 टीम, बोआरीजोर में 155 टीम, मेहरमा में 220 टीम कार्यरत है। स्वास्थ्य विभाग के अनुसार 14 जुलाई की शाम तक सर्वे का काम पूरा किया जाएगा। 14 से 25 जलाई तक डॉक्टर की टीम जिले में घूम घूमकर कुष्ठ और टीबी रोगियों का उपचार करेगी। खोजी अभियान के शुरुआती चार दिन में जिले से कुल 271 संभावित टीवी मरीज व 461 संभावित कुष्ठ रोगी की पहचान हुई है। जांच के दौरान इसकी पुष्टि की जाएगी।

------------------------ कुष्ठ और टीबी खोज अभियान के दौरान टीम ने लक्ष्य को पूरा करने की दिशा में कदम बढ़ाया है। टीम के सभी सदस्य विश्वास पर खरे उतर रहे हैं। सभी सदस्य टीबी व कुष्ठ को जड़ से खत्म करने के लिए कृतसंकल्पित हैं। इसके लिए जिला स्तर से मॉनीटरिग की जा रही है। प्रखंड के एमओआईसी को भी अहम जिम्मेवारी दी गई है।

- डॉ रामदेव पासवान, सिविल सर्जन, गोड्डा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप