संवाद सहयोगी,गोड्डा: जिले में साल भर पूर्व शुरू की गई डायल-100 सेवा कारगर रही है। लगातार लोग आसपास के घटना व दुर्घटना कि सूचना पुलिस को देते रहे है। अधिकतर मामलों को पुलिस के निष्पादित भी किया। वर्ष-2017 में कंपोजिट कंट्रोल रूप से यह सेवा शुरू की गई थी। शुरुआती दिनों में लोग इसके प्रति जागरूक नहीं थे, लेकिन इसके बाद के समय में लोगों ने इस सेवा लाभ उठाना शुरू किया। जिसपर पुलिस भी कार्रवाई कर रही है। इसके संचालक के लिए पीसीआर निरीक्षक की तैनात की गई है जिनके स्तर से प्रतिदिन खैरियत प्रतिवेदन एसपी व डीएसपी स्तर के अधिकारी को जाती है। इस लिहाज से वर्ष-2018 में डायल-100 का रिस्पांस बेहतर रहा है। वर्ष-2018 में डायल-100 पर 974 कॉल ड्राप हुए है अब यह सेवा किसी भी कंपनी के मोबाइल नंबर पर उपलब्ध है। लोग आसपास की घटना-दुर्घटना की सूचना 100 नंबर डायल पर दे सकते हैं। हर शिफ्ट में काल रिसीव करने के लिए कंपोजिट कंट्रोल रूम में कर्मी तैनात रहते है।

कर्मी ने बताया कि अगर कोई भी डायल करता है तो बसे पहले रांची सीसीआर में कॉल ड्राप होता है जहां जिला बताते ही चंद सेकंड में ड्राप होकर काल करने वाले से पुलिस संपर्क कर कार्रवाई शुरू कर देती है। इसके लिए सीसीआर में वर्तमान में तीन पीसीआर व छह हाइवा पेट्रोल वाहन है

डायल-100 सेवा में चालू वर्ष में बेहतर रिस्पांस रहा है लगभग एक हजार काल को पीसीआर ने रिसीव कर कार्रवाई की है। कोई भी अगर किसी मुसीबत में है या फिर कोई घटना व दुर्घटना होती है को कॉल करें। पुलिस त्वरित कार्रवाई करेगी। फर्जी कॉल करने पर कार्रवाई का प्रावधान है ब्लैक लिस्ट कर जांच की जाती है।

- रविकांत भूषण, वरीय प्रभारी पीसीआर सह एसडीपीओ गोड्डा

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप