जागरण संवाददाता, गोड्डा : जिले में गुरुवार को 146 नए कोरोना पाजिटिव केस की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही यहां संक्रमितों की संख्या 483 हो गई है। राहत की बात यह है कि यहां रिकवरी रेट अब भी बेहतर बनी हुई है। शुक्रवार को यहां 137 मरीज स्वस्थ हुए। स्वास्थ्य विभाग के मेडिकल बुलेटिन के अनुसार जांच में सर्वाधिक केस आरटीपीसीआर जांच में मिले हैं। आरटीपीसीआर में 2259 सैंपल की जांच में 114 लोगों में कोरोना की पुष्टि की गई। गोड्डा सदर अस्पताल में 14, बोआरीजोर प्रखंड में नौ केस मिले। ठाकुरगंगटी, पथरगामा और मेहरमा में एक भी केस नहीं मिला। रेलवे स्टेशन से एक, पोड़ैयाहाट से तीन, सुंदरपहाड़ी और शहरी क्षेत्र से एक एक केस मिले। फिलहाल कोविड-19 के एक भी मरीज सिकटिया स्थित कोविड केयर सेंटर में आइसोलेट नहीं हैं। कोरोना संक्रमण के प्रसार को देखते हुए सिविल सर्जन डा मंटू टेकरीवाल ने जिले वासियों से अपील की है कि वे कोविड-19 संक्रमण की चेन को तोड़ने में सरकारी प्रयास का हिस्सा बनें। जांच के दौरान बड़ी संख्या में इन दिनों कोरोना संक्रमण के मामले सामने आ रहे हैं। सभी लोगों को अत्यधिक सतर्कता बरतने की आवश्यकता है।

जिला प्रशासन द्वारा बड़े पैमाने पर पंचायत स्तर पर कोरोना जांच अभियान एवं टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। जिला प्रशासन का सहयोग करते हुए सबको अपनी जांच अवश्य करानी चाहिए। वैसे लोग जिन्हें सर्दी, खांसी या बुखार जैसे लक्षण हैं, वे तत्काल अपनी जांच नजदीकी कोविड जांच में कराएं। सभी लोग अपने-अपने घरों में ही रहें। उन्होंने कोविड के पाजिटिव मरीजों से कहा है कि वह घरों में आइसोलेट हो जाएं। कोरोना के संक्रमण से घबराएं नहीं, बल्कि मास्क का प्रयोग करें। लोगों से शारीरिक दूरी बनाकर रहें। अति आवश्यक कार्य होने पर ही घर से बाहर निकलें। सरकार द्वारा जारी कोरोनारोधी गाइडलाइन का पालन करें। उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक संख्या में लोग कोरोना जांच करवाएं और अपना वेक्सीनेशन कराएं ताकि वह खुद भी सुरक्षित रहें और दूसरों को भी सुरक्षित रखें।

Edited By: Jagran