जागरण संवादददाता, गिरिडीह: लोकसभा चुनाव में मतदान करने को लेकर युवा मतदाताओं में काफी उत्साह देखा गया। युवाओं ने देशहित व विकास की सोच को साकार करने को लेकर अपने-अपने बूथों पर पंक्तिबद्ध होकर अपनी बारी आने पर मतदान किया। कड़ी धूप में एक-दो घंटे तक कतार में खड़े रहने के बाद पहली बार मतदान कर बाहर आने पर धूप की तपिश से मुरझाए चेहरे खुशी से लबरेज थे। नए मतदाताओं के चेहरे पर खुशी की झलक होना भी लाजिमी था क्योंकि उन्हें पहली बार मतदान करने का मौका मिला था। पहली बार वोट देकर लौट रही युवा वोटर जुबैदा खातून ने कहा कि पहली बार अपने मताधिकार का प्रयोग करने का मौका मिला है। मैंने देश के साथ-साथ क्षेत्र के विकास को लेकर मतदान करने का काम किया है। गांवों में व्याप्त समस्याओं को चुनाव के बाद प्राथमिकता के साथ नए सांसद निबटाने का काम करेंगे। मुनिया खातुन ने कहा कि कड़ी धूप में घंटों खड़ा रहने के बाद अपने मत का प्रयोग उसने किया है। वोट देने के लिए कतार में खड़ा रहने पर काफी घबराहट हो रही थी। वोट देने के बाद अब वह सकून मिल रहा है। करिश्मा ने कहा कि बहुत धूप है फिर भी कतार में खड़ी रहकर वोट दिया है। वोट देने के बाद बहुत अच्छा लग रहा है। पहले लोगों को वोट देने जाते देखकर मन में वोट देने की ललक होती थी जो आज पूरी हुई। महफिल अंसारी ने कहा कि पहली बार उसने वोट दिया है। जो भी जीतें, वे क्षेत्र के विकास के लिए काम करें, यही सोचकर मतदान किया है। देश के लिए मतदान कर काफी गर्व महसूस हो रहा है।

सरफराज अंसारी ने कहा कि आज काफी गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं। वोट देने के लिए ईवीएम के पास जाने के बाद कुछ घबराहट हुई थी, फिर थोड़ा रिलैक्स होने के बाद अपने दिल की आवाज सुनकर ईवीएम के बटन को दबाकर मतदान का फर्ज निभाया। जो भी जीतें, वह जाति, धर्म, भेदभाव, ऊंच-नीच, छोटा बड़ा आदि सोच से परे हटकर क्षेत्र के विकास के लिए नि:स्वार्थ भाव से काम करें, तब और अधिक खुशी होगी।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस