संवाद सहयोगी, बिरनी (गिरिडीह)। बुधवार को झारखंड (Jharkhand) के गिरिडीह जिले (Giridih) में बसे बिरनी (Birni) के चिकनीबाद गांव (Chiknibad) की रहने वाली बुजुर्ग सुगिया देवी से डेढ़ साल का बच्चा छीनकर भाग रहे मुस्तकीम अली को ग्रामीणों ने दबोच लिया। गुस्साए ग्रामीणों ने उसकी पिटाई भी कर दी। बच्चा छीनने की इस घटना से पूरे गांव में हड़कंप मच गया।

पुलिस मुस्तकीम से पूछताछ में लगी है। कुछ ग्रामीणों का कहना है कि आरोपित कोडरमा के मरकच्चो का रहने वाला है। ग्रामीणों ने बताया कि कोडरमा-कोवाड़ मार्ग पर बसे चिकनीबाद गांव में बीरेंद्र यादव के डेढ़ साल के पुत्र रियांस यादव को शाम करीब 4:30 बजे उसकी दादी लेकर घर से निकली थी। वह खेत जा रही थी। तभी वहां पहुंचे मुस्तकीम ने अचानक उनकी गोद से बच्चा छीन लिया और भागने लगा।

देवघर में साइबर ठगों ने दो लोगों से की 1.25 लाख रुपये की ठगी, जिले में झपट्टा मार गिरोह भी हुआ सक्रिय

महिला की चीख सुन ग्रामीणों ने आरोपित को दबोचा

उन्होंने शोर मचाया तो आसपास के ग्रामीणों ने खदेड़कर आखिरकार आरोपित मुस्तकिम को पकड़ लिया। साथ ही इसकी सूचना बिरनी थाने की पुलिस को दी। बरहमसिया पंचायत के पूर्व मुखिया प्रेमचंद कुशवाहा व सिमराढाब के मुखिया दिलीप दास भी सूचना पाकर गांव पहुंचे। दोनों ने ग्रामीणों को समझाया कि आरोपित के साथ मारपीट नहीं करें। डेढ़ घंटे बाद बिरनी थाने की पुलिस आई।

सड़क दुर्घटना में जख्‍मी होकर दर्द से कराहता रहा शख्‍स, एंबुलेंस न मिलने पर बाइक से पहुंचाया गया अस्‍पताल

ग्रामीणों के डर से बच्‍चे को फेंककर भागने लगा था आरोपित

ग्रामीणों ने आरोपित को एसआइ रामाशंकर उपाध्याय के हवाले कर दिया। पुलिस उसे थाने ले गई। दादी सुगिया का कहना है कि पोते को उसकी मां के पास खेत ले जाने के लिए निकले थे, ताकि वह उसे दूध पिला सके। घर के पास चिकनीबाद नदी के पुल पर पहुंची थी तभी आरोपित ने बच्चा छीन लिया। उसके शोर मचाने पर ग्रामीण दौड़े तो वह बच्चे को फेंककर भागने लगा। बाद में ग्रामीणों ने उसे पकड़ लिया। पुलिस का कहना है कि वे जांच कर रहे हैं।

Edited By: Arijita Sen

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट