संवाद सहयोगी, तिसरी (गिरिडीह) : गिरिडीह में तिसरी प्रखंड के अजय पहाड़ी के नजदीक अवैध खनन के दौरान माइका (ढिबरा) खदान का एक हिस्सा (चाल) धंस गया। अवैध रुप से माइका निकाल रहे अठसार पलमरुआ के करीम मियां और लियाकत मियां की जान चली गईं। दो घायल हुए। शनिवार की दोपहर हादसा हुआ। वन प्रक्षेत्र पदाधिकारी जीत नारायण सिंह ने की। उन्होंने कहा, केस होगा। वन भूमि में अजय पहाड़ी है। वन भूमि में माइका की कई खदानें हैं। माइका माफिया इन खदानों में मजदूरों को भेजते हैं। माइका की खुदाई कराते हैं। जितने किलो माइका निकलता है, उसी के हिसाब से मजदूरों को रुपए देते हैं। नदी के किनारे खदान से माइका निकालने के लिए अवैध खनन हो रहा था। खदान का एक हिस्सा अचानक धंस गया तो चार मजदूर दब गए। स्थानीय लोगों ने किसी तरह माइका के भंडार के नीचे दबे लोगों को निकाला। पूर्व में भी अवैध खनन में गंवाई जान तिसरी प्रखंड के कई इलाके में खुलेआम माइका का अवैध खनन होता आ रहा है। पहले भी लोगों की जान गई है। कुछ दिन पूर्व बरवाडीह वन सीमा क्षेत्र की एक खान में दो मजदूरों की मौत हो गई थी। वह मामला दब गया था। मैनी, ककनी, गोलगो, सतढेकिया एवं रंगमटिया के जंगल में अवैध खनन के दौरान कई लोगों की जान गई है। ::: वर्जन ::: दुर्घटना हुई है। खदान में अवैध खनन कराने वालों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की जाएगी। जीत नारायण सिंह, वन प्रक्षेत्र पदाधिकारी, तिसरी माइका के अवैध खनन के दौरान हादसा होने की सूचना मिली है। कौन मजदूर मरा है? नाम नहीं पता चला है। लक्ष्मेश्वर चौधरी, थानाप्रभारी, तिसरी

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस