जागरण टीम, गिरिडीह: अलग-अलग स्थानों पर बुधवार को सड़क हादसे में महिला सहित तीन लोगों की मौत हो गई। हादसे में तीन युवक घायल भी हुए हैं। बगोदर में हादसे के बाद आक्रोशित लोगों ने बगोदर-हजारीबाग रोड को जाम कर दिया।

दवा लाने जा रहा था सुरेंद्र दास

गिरिडीह: घर में बीमार परिजन के लिए दवा लाने जा रहे मुफस्सिल थाना क्षेत्र के पनयडीह निवासी सुरेंद्र दास (32) को जीतपुर-पहाड़पुर के पास एक मारुति वैन ने अपनी चपेट में ले लिया। हादसे में वह गंभीर रूप से घायल हो गया। इलाज के लिए उसे सदर अस्पताल लाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। हादसे के बाद वैन चालक वाहन (जेएच 11आर/3247) को धनयडीह के पास सड़क किनारे छोड़कर फरार हो गया। पुलिस ने वाहन को अपने कब्जे में ले लिया है। परिजनों ने बताया कि सुरेंद्र तेलोडीह जा रहा था। इसी बीच हादसा हो गया, जिसमें उसके माथे में गंभीर चोट आई।

घटना की सूचना मिलने के बाद मृतक के मां, पिता, पत्नी व अन्य परिजन सदर अस्पताल पहुंचे। बेटे की मौत से आहत एक तरफ गुमशुम होकर पिता फफक-फफक कर रो रहे थे तो दूसरी ओर मां व पत्नी आउटडोर के बाहर बेसुध होकर दहाड़ें मार कर रो रही थीं। परिजनों के क्रंदन से अस्पताल परिसर का माहौल भी गमगीन हो गया था।

अनियंत्रित होकर स्कूटी से गिरे तीन युवक

इधर, नगर थाना क्षेत्र के भंडारीडीह मुख्य पथ पर अनियंत्रित होकर स्कूटी से गिरने से तीन युवक जख्मी हो गए। घायलों में बनखंजो निवासी सलीम अंसारी, भंडारीडीह निवासी मो. वारिस एवं पचंबा थाना क्षेत्र के मोहनपुर निवासी मो. इरफान शामिल हैं। तीनों को इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। सलीम ने बताया कि वह अपनी स्कूटी से साथियों के साथ बनखंजो से भंडारीडीह आ रहा था। रास्ते में ब्रेक मारने पर स्कूटी अनियंत्रित होकर पलट गई।

बगोदर में हाइवा ने अधेड़ को कुचला

हरिहरधाम रोड के पास एक तेज रफ्तार हाइवा की चपेट में आने से बगोदर मस्जिद रोड निवासी स्कूटी सवार मुख्तार अंसारी (50) की मौत हो गई। घटना के बाद चालक हाइवा को वहीं छोड़कर फरार हो गया। इससे आक्रोशित ग्रामीणों ने बगोदर-हजारीबाग रोड को जाम कर दिया। ग्रामीण बगोदर-हजारीबाग सड़क पर ब्रेकर बनाने, हाइवा चालकों के लाइसेंस की जांच करने, जीटी रोड से मस्जिद रोड तक अतिक्रमण हटाने, बगोदर-हजारीबाग रोड को वनवे करने आदि की मांग कर रहे थे। जाम की सूचना मिलते ही बगोदर थाना प्रभारी नवीन कुमार सिंह व सीओ आशुतोष ओझा घटना स्थल पहुंचे। उनके लिखित आश्वासन के बाद जाम हटा। पुलिस ने शव को जब्त कर पोस्टमार्टम के लिए गिरिडीह भेज दिया।

बताया गया कि मुख्तार हरिहरधाम रोड की ओर जा रहे थे। तभी हजारीबाग की ओर से आ रहे हाइवा ने उन्हें अपनी चपेट में ले लिया। मौके पर शेख तैयब, शहनाज अंसारी, संतोष रजक, पवन महतो आदि थे।

हीरोडीह में ट्रक की चपेट में आई महिला, तोड़ा दम

जमुआ-कोडरमा मुख्य मार्ग पर कोदंबरी गांव के पास तेज रफ्तार ट्रक की चपेट में आने से एक महिला की मौत हो गई। कोदंबरी निवासी धानेश्वर महतो की 46 वर्षीय पत्नी सुबह करीब पांच बजे जानवरों को घर के बाहर बांध रही थी। इसी बीच एक ट्रक (यूपी 82टी 5525) महिला को कुचलते हुए निकल गया। इससे उसकी मौत घटनास्थल पर ही हो गई। स्थानीय लोग जब पीछा करने लगे तो चालक ट्रक को सड़क किनारे खड़ा कर भाग निकला, जबकि उप चालक धर्मेद्र यादव (कन्नौज, यूपी निवासी) को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया गया। धर्मेद्र ने कहा कि दिल्ली से दाल लोड कर देवघर जा रहे थे कि चालक की आंख लग गई, जिस कारण हादसा हुआ।

घर में बजनी थी शहनाई, पसरा मातम: मृतका के दूसरे पुत्र संजय वर्मा का विवाह अगले माह होना था। इसके लिए बुधवार को ही लड़की को तिलक देने जाना था। इसके पूर्व ही यह हादसा हो गया, जिससे पूरे गांव में मातम पसर गया है। हीरोडीह पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर ट्रक व शव को कब्जे में ले लिया। शव को पोस्टमार्टम के लिए गिरिडीह भेज दिया गया।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप