जागरण संवाददाता, गिरिडीह : कोडरमा लोकसभा क्षेत्र में सोमवार को मतदान है। यहां से माओवादियों की हिटलिस्ट में रहे पूर्व मुख्यमंत्री सह झाविमो प्रत्याशी बाबूलाल मरांडी, भाजपा की अन्नपूर्णा देवी, माले के राजकुमार यादव समेत 14 प्रत्याशी चुनाव लड़ रहे हैं। बिहार के जमुई और नवादा जिले से सटे गिरिडीह जिले के भेलवाघाटी, तिसरी व गावां के 239 मतदान केंद्र नक्सल प्रभावित हैं। इन बूथों को अति संवेदनशील घोषित कर सीआरपीएफ के हवाले कर दिया गया है। सीमा क्षेत्र बिहार पुलिस और सीआरपीएफ भी माओवादियों पर नजर रख रही है। पिछले एक साल में नक्सलियों की ताकत इस इलाके में भी कमजोर हुई है लेकिन गिरिडीह पुलिस सुरक्षा व्यवस्था पर पूरी तरह से चौकस है। अतिसंवदेनशील मतदान केंद्रों में पारा मिलिट्री फोर्स को प्रतिनियुक्त करने के अलावा पूरे इलाके में पेट्रोलिग की जा रही है। मतदान केंद्रों तक चुनाव कर्मियों को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच पहुंचाया जा रहा है। पूरे रास्ते में जांच अभियान चलाया जा रहा है।

गिरिडीह से सटे बिहार के जमुई लोकसभा सीट पर चुनाव हो चुका है। नक्सली अभी तक बिहार और झारखंड में प्रशासनिक व्यवस्था की मजबूती के कारण कोई घटना को अंजाम नहीं दे सके हैं। इस कारण वे बौखलाए हुए हैं। एसपी सुरेंद्र कुमार झा ने कहा है कि चुनाव शांतिपूर्ण कराने के लिए पूरी व्यवस्था की गई है। चुनाव में बूथों पर सुरक्षा को लेकर 40 कंपनियां तैनात कर दी गयी है।

----------------

गड़बड़ी से निपटने को जवान तैयार

कोडरमा लोकसभा चुनाव भयमुक्त व निर्भिक माहौल में संपन्न कराने को लेकर सुरक्षा की चाक-चौबंद व्यवस्था की गई है। मतदान के क्रम में किसी भी प्रकार से गड़बडी करनेवालों से निपटने के लिए पुलिस ने व्यापक तैयारी की है। पूरे क्षेत्र को कई सेक्टर व सुरक्षा के लिहाज से कई सुरक्षा जोन में बांटा गया है। इसके तहत सभी सेक्टर में मजिस्ट्रेट की तैनाती की गई है। पुलिस की ग्लोबल पार्टी को भी तैनात किया गया है। क्यूआरटी व सैट के जवान मतदान क्षेत्रों में गश्त लगाने में जुट गए हैं। रैपिड एक्शन फोर्स के अलावा आइआरबी, कोबरा बटालियन व झारखंड़ जगुआर की टीम को भी सुरक्षा व्यवस्था में लगाया गया है। साथ ही अति संवेदनशील बूथों पर पारा मिलिट्री फोर्स को तैनात किया गया है। मतदान क्षेत्रों पर पैनी नजर बनाए रखने के लिए स्टेटिक मजिस्ट्रेट को भी लगाया गया है। एसपी सुरेन्द्र कुमार झा सुरक्षा की कमान खुद ही संभाल रहे हैं। अनुमंडल पुलिस पदाधिकारियों को भी सुरक्षा की जिम्मेवारी सौंपी गई है। इसमें डीएसपी नवीन कुमार सिंह, संतोष कुमार मिश्रा, संदीप सुमन समदर्शी के अलावे एसडीपीओ जीतबाहन उरांव, विनोद कुमार महतो, राजीव कुमार, नीरज कुमार सिंह शामिल हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस