संवाद सहयोगी, सरिया (गिरिडीह): सरिया स्थित एसआरके डीएवी पब्लिक स्कूल प्रबंधन की ओर से छात्रों से लाकडाउन के दौरान मासिक फीस में बढ़ोतरी, विकास शुल्क, ई-क्लासेस आदि के नाम पर फीस वृद्धि करने पर शिक्षा विभाग गंभीर दिख रहा है। इसे लेकर डीईओ पुष्पा कुजूर ने सीबीएसई बोर्ड नई दिल्ली को पत्र लिखकर विद्यालय पर कार्रवाई की मांग की है।

बताते चलें कि डीएवी की फीस बढ़ोतरी को लेकर अभिभावकों ने विरोध किया था। इस आलोक में डुमरी के क्षेत्रीय शिक्षा पदाधिकारी ने जांच के दौरान लगभग आरोप सही पाए। इसकी जांच का प्रतिवेदन उन्होंने जिला शिक्षा पदाधिकारी को सुपुर्द किया था, जिसके आलोक में डीईओ ने झारखंड सरकार शिक्षा नियमावली के विरुद्ध कार्य करने व लाकडाउन नियमों की अवहेलना करते हुए बच्चों के शिक्षण शुल्क में बढ़ोतरी करने, विकास शुल्क लेने आदि गलत कार्यप्रणाली को देखते हुए निगरानी सीबीएसई बोर्ड नई दिल्ली को पत्र लिखते हुए अग्रेतर कार्रवाई की मांग की है। साथ में सभी जांच प्रतिवेदन व विद्यालय प्रबंधन के दिए गए स्पष्टीकरण को भी संलग्न किया है। सांसद प्रतिनिधि मनोज महतो व भाजपा मंडल अध्यक्ष पवन कुमार पांडेय ने संयुक्त रूप से प्रेस बयान जारी कर कहा कि उक्त विद्यालय में संग्रहित किए गए अधिकतम शुल्क को प्रबंधन छात्र छात्राओं के मासिक शुल्क में समायोजन करे अन्यथा जनांदोलन किया जाएगा। विद्यालय प्राचार्य आरके सिंह ने कहा कि उक्त संबंध में कोई जानकारी उन्हें नहीं है। यदि शिक्षा विभाग से किसी प्रकार का आदेश मिलता है तो उसकी सूचना प्रधान कार्यालय को दी जाएगी।

Edited By: Jagran