जागरण टीम, गिरिडीह : पेट्रोलियम पदार्थो की मूल्य वृद्धि के खिलाफ विपक्षी पार्टियों का जिले में व्यापक असर रहा। कांग्रेस, झामुमो, झाविमो, माले आदि पार्टियों के नेता और कार्यकर्ता सड़क पर अलसुबह ही उतर गए। बंद समर्थकों ने जगह-जगह रोड जाम किया, बाजार बंद कराया। शहर में कई प्राइवेट स्कूल भी बंद रहे। सरकारी कार्यालय खुले तो थे, लेकिन सन्नाटा पसरा रहा। कर्मियों की उपस्थिति भी अन्य दिनों की अपेक्षा कम थी। बाजार में भी इसका असर देखा गया। कई दुकानों और प्रतिष्ठानों के शटर गिरे रहे। लंबी दूरी के वाहनों का परिचालन बंद रहा। बंद के दौरान कहीं कोई अप्रिय घटना की सूचना नहीं है।

गिरिडीह शहर में जिला कांग्रेस कमेटी के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने शहर का भ्रमण कर लोगों से बंद करने की अपील की। इसका नेतृत्व पूर्व सांसद सरफराज अहमद कर रहे थे। उनके साथ जिलाध्यक्ष नरेश वर्मा, सतीश केडिया, समीर चौधरी, महमूद अली खान, शादाब अंसारी आलमगीर आलम, एहसान अहमद, दुर्गा प्रसाद, नरेन्द्र सिन्हा छोटन, गो¨वद तुरी, संतोष राय, शेखर ¨सह, चंद्रशेखर ¨सह, शब्बन खान, निजाम अंसारी आदि भी शामिल थे। बाद में सरफराज अहमद ने कहा कि बंद स्वत: स्फूर्त रहा। लोगों ने इसके समर्थन में खुद अपने प्रतिष्ठानों को बंद रखा। इससे साबित होता है कि जनता मोदी और रघुवर सरकार से उब चुकी है। आने वाले समय में जनता भाजपा सरकार को उखाड़ फेंकेगी। नगर कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष अजय सिन्हा मंटू भी कार्यकर्ताओं के साथ शहर में बंद को सफल बनाने सड़क पर उतरे। उन्होंने कहा कि जनता मंहगाई से त्रस्त है। पेट्रोलियम पदार्थो के मूल्य आसमान छू रहे हैं। सरकार महंगाई रोकने में विफल साबित हो रही है। इसका खामियाजा उसे भुगतना पड़ेगा।

उधर गिरिडीह-डुमरी पथ पर बदडीहा में असंगठित कामगार कांग्रेस के चेयरमैन अशोक विश्वकर्मा के नेतृत्व में समर्थकों सड़क पर बैठकर मार्ग को जाम कर दिया। यहां दुर्गा प्रसाद, शुकर पासी, बलराम यादव, विपिन सिन्हा, निर्मल कुमार झा, प्रो. मुकेश साहा, पोरेशनाथ मित्रा आदि थे। इसके समर्थन में झाविमो के लोग भी सड़क पर उतरे। इसमें केंद्रीय उपाध्यक्ष लक्ष्मण स्वर्णकार, महेश राम, टेको रविदास, विनोद वर्मा, सुमन सिन्हा, आसमां खातून, सबीर अहमद, मोहम्मद जहांगीर, मनोज मौर्या, सुनील गोस्वामी, राजेश जायसवाल आदि शामिल थे। झारखंड मुक्ति मोर्चा की ओर से केंद्रीय सचिव सुदिव्य कुमार सोनू, जिलाध्यक्ष संजय ¨सह, अजीत कुमार पप्पू समेत कई पदाधिकारी शामिल थे। भाकपा माले के राज्य कमेटी सदस्य राजेश यादव के नेतृत्व में जिला कमेटी सदस्य राजेश सिन्हा, शाहनवाज खान, ठाकुर मंडल, संजय यादव, सलामत अंसारी, महताब अली मिर्जा, श्यामकिशोर हांसदा, सदानंद स्वर्णकार, बबलू दास, पंकज वर्मा, प्रदीप यादव, मोहम्मद ¨मटू, कलाम अंसारी, समसुल होदा आदि बंद को सफल बनाने सड़क पर उतरे।

गावां: बंद का गावां में भी असर देखा गया। थाना मोड़ में कांग्रेस प्रखंड अध्यक्ष नंदकिशोर सिन्हा, प्रदेश डेलीगेट इंद्रदेव ¨सह, जिला सचिव रंधीर चौधरी समेत भाकपा माले के प्रखंड सचिव नागेश्वर यादव, सुरेश चौधरी, बीरू चौधरी, सदानंद यादव, आनंदी यादव, राजद प्रखंड अध्यक्ष बिनोद प्रसाद यादव, उपेंद्र यादव के नेतृत्व में सैकड़ों लोग सड़क पर उतरे व रोड जाम कर दिया। वहीं पटना चौक पर झाविमो प्रखंड अध्यक्ष श्रीराम यादव के नेतृत्व में केंद्रीय कार्यसमिति सदस्य अमरदीप निराला, वहाब खान, परवेज आलम, मुन्ना ¨सह, बबलू साहा, सतीश चौधरी उपस्थित थे।

निमियाघाट/डुमरी: बंद का डुमरी प्रखंड में कोई ़खास असर नहीं दिखा। बंद कराने कांग्रेस प्रखंड अध्यक्ष सुखदेव प्रसाद सेठ, जगदीश रजक, भुवनेश्वर रविदास, मनोज जायसवाल, शशिकांत वर्मा, मो. शाहिद, मो. शाकिर, सुखदेव दास, विजय यादव, नागेश्वर महतो, प्रीतम महतो, महेन्द्र महतो, नरेश महतो, संजय महतो, झामुमो प्रखंड अध्यक्ष निरंजन महतो, बरकत अली, राजकुमार पांडेय, मनोज सिन्हा आदि निकले थे, जिन्हें डुमरी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

बेंगाबाद: बंद का असर बेंगाबाद में कुछ घंटे तक देखा गया। यहां विभिन्न दलों के 60 कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार किया गया। मौके पर कांग्रेस प्रखंड अध्यक्ष उमेश तिवारी, झामुमो प्रखंड अध्यक्ष नुनूराम किस्कू टाइगर, शहनवाज अंसारी, महेंद्र अग्रवाल, राजेन्द्र मंडल, प्रवीण राम, रेणुलाल चौरसिया, महेश वर्मा सहित कई अन्य लोग उपस्थित थे।

बगोदर: विपक्षी दल के कार्यकर्ताओं ने जीटी रोड को जाम कर दिया। जाम स्थल पर बगोदर सरिया एसडीपीओ बिनोद कुमार महतो, एसडीओ रामकुमार मंडल, बगोदर के बीडीओ रवींद्र कुमार, थाना प्रभारी पृथ्वी सेन दास समेत पुलिस मौजूद थी। बंद में माले से परमेश्वर महतो, संदीप जायसवाल, मुस्ताक अंसारी, पवन महतो, सरिता महतो, पूनम महतो, झाविमो के मो इक़बाल, शहनवाज अंसारी, विश्वनाथ साव, कांग्रेस से सफदर अली, खैबर अली व राजद से मुस्तकीम अंसारी समेत दर्जनों लोग शामिल थे।

बिरनी: भाकपा माले कार्यकर्ताओं ने अलसुबह सड़क पर उतरकर जाम कर दिया। रामू बैठा, मुंशी विश्वकर्मा, रामविलास पासवान, राजेश विश्वकर्मा, सीताराम पासवान, सूरजदेव तुरी, विजय दास, टीपन रविदास, सुखदेव वर्मा आदि शामिल थे।

देवरी: बंदी कार्यक्रम में कांग्रेस के प्रखंड अध्यक्ष बिमल कुमार ¨सह, झाविमो प्रखंड अध्यक्ष अनिल कुमार चौधरी, रघुनंदन प्रसाद ¨सह, कैलू देव, मनोज कुमार राय, मुखिया राजेन्द्र नारायण देव, धोकल दास, सत्यनारायण दास, बिनोद पासवान, अर्जुन तुरी, संजय ¨सह, रामकिशुन यादव, उस्मान अंसारी, अजय चौधरी, सत्यनारायण दास, अकबर अंसारी, जयदेव राय, जिला उपाध्यक्ष सहदेव प्रसाद शर्मा, मुजाहिद अंसारी, रामकिशुन हाजरा, प्रदीप हाजरा, टुपलाल हाजरा, मंजूर अंसारी आदि मौजूद थे। इस दौरान 85 लोगों को गिरफ्तार किया गया।

सरिया: सरिया में बंद असरदार रहा। बाजार बंद कराने में कांग्रेस के प्रखंड अध्यक्ष अंबुज वर्मा, दीपक माहेश्वरी, नकुल ¨सह, अशोक मंडल, विकी जैन, भाकपा माले प्रखंड सचिव भोला मंडल, कुश कुमार, महेंद्र मंडल, विजय ¨सह, सोनू कुमार, सुदामा राम, मंटू पांडे सहित दर्जनों कार्यकर्ता शामिल थे। इस दौरान 40 लोगों को गिरफ्तार किया गया।

जमुआ: बंद कराने में माले नेता अशोक पासवान, विजय पांडेय, मीना दास, असगर अली, कांग्रेस नेत्री मंजू कुमारी, महशर इमाम, झविमो नेता जमालुद्दीन खान, श्यामदेव हा•ारा आदि शामिल थे। इस दौरान 82 कार्यकर्ता गिरफ्तार किए गए।

गांडेय: प्रखंड में विपक्ष का भारत बंद बेअसर रहा। बंद को लेकर कांग्रेस प्रखंड अध्यक्ष मो. अकबर अंसारी, अल्पसंख्यक मोर्चा के अध्यक्ष मो. जाकिर हुसैन आदि कार्यकर्ता शामिल थे।

खोरीमहुआ: बंद को सफल करने को लेकर भाकपा माले सचिव किशोरी अग्रवाल, जिप सदस्या जयंती चौधरी, विनय संथालिया, क्यूम अंसारी, शंकर पासवान, कौशल्या दास, शहादत अंसारी, बालेश्वर यादव, नुकलाल पंडित, हरि दास, संयुक्त मोर्चा के अजय रंजन, देवनारायण यादव, पूर्व विधायक गुरुसहाय महतो, पवन साव, अजीत रजक, निरंजन ¨सह, प्रमोद कुमार राय, प्रकाश मंडल, नाथेश्वर ठाकुर, कृष्णदेव रजक आदि लोग मौजूद थे।

Posted By: Jagran