गिरिडीह : झारखंड शिक्षा परियोजना परिषद रांची की तरफ से शुक्रवार को राज्य स्तरीय झारखंड करियर पोर्टल पर यूट्यूब में वेबिनार का आयोजन किया गया। पूरे झारखंड से करीब 4 हजार शिक्षक-शिक्षिकाओं ने भाग लिया। करियर पोर्टल में विशेष रूप से सचिव स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग राहुल शर्मा, जेपीसी के निदेशक उमाशंकर सिंह और पदाधिकारियों के साथ-साथ कई विशेषज्ञों ने भी यूट्यूब के माध्यम से करियर पर जानकारी दी। सचिव ने इस लॉकडाउन के दौरान विद्यालय छात्रों के बीच जो गैप था उसे दूर करने में इस वेबिनार की बड़ी भूमिका बताई। निदेशक सिंह ने कहा कि कई छात्र प्लस टू के बाद सही मार्गदर्शन के अभाव में अपने करियर के चुनाव में अनेक मुसीबतों का सामना करना करते हैं और उनका समय बर्बाद व धन की बर्बादी होती है। यह करियर पोर्टल सही रास्ता इन छात्र-छात्राओं को प्लस टू के बाद दिखाएगा।

गिरिडीह के सभी उच्च विद्यालयों के शिक्षकों और प्रधानाध्यापकों ने इसमें भाग लिया। इसके अलावा कई बच्चों ने भी बड़े ध्यान से करियर को लेकर इसे सुना और समझा। शिक्षक मुन्ना प्रसाद कुशवाहा ने बताया कि झारखंड करियर पोर्टल स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग का एक बड़ा ही महत्वपूर्ण अंग बन चुका है। लॉकडाउन में इस पर विस्तृत व्याख्यान के लिए किस प्रकार झारखंड के विद्यार्थी कैरियर पोर्टल पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं और उसमें जाकर प्रोफेशनल और वोकेशनल स्तर के 550 करियर की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। दसवीं के छात्र साकेत मौर्या, 12 वीं की छात्रा साक्षी आदि ने भी इसमें भाग लिया।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस