संवाद सहयोगी, सरिया (गिरिडीह) : अमनारी-कर्णोडीह पथ पर पूर्व पंचायत समिति सदस्य सह भाजपा पिछड़ा सेल के प्रखंड अध्यक्ष अजय यादव के पिता द्वारिका यादव की हत्या शुक्रवार देर शाम गला रेतकर अपराधियों ने कर दी थी। सूचना मिलने पर सैकड़ों ग्रामीण एवं विभिन्न राजनीतिक दलों के नेता वहां पहुंच गए। सभी मामले का खुलासा करने और अपराधियों को सजा दिलाने की मांग पर अड़े थे। करीब छह घंटे बाद वार्ता होने पर ग्रामीणों ने शव को उठाया।

सरिया एसडीपीओ विनोद कुमार महतो ने लोगों से वार्ता कर निष्पक्ष जांच का भरोसा दिलाया। करीब 6 घंटे बाद रात लगभग 12:00 बजे शव को सरिया थाना लाया गया। शनिवार सुबह कोडरमा सांसद डॉ. रवींद्र राय सरिया थाना पहुंचे और घटना पर दुख व्यक्त करते हुए इस बाबत पूरी जानकारी ली। साथ ही पुलिस को आवश्यक कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

मामले का खुलासा करना पुलिस के लिए चुनौती : सांसद राय ने कहा कि सरिया थाना क्षेत्र का पश्चिमी जोन आपराधिक गतिविधियों अड्डा रहा है। द्वारिका यादव की हत्या को लेकर कहा जा सकता है कि मनुष्य के जीवन में सामाजिक प्रतिद्वंद्विता और आर्थिक गतिविधियों की संलिप्तता भी जाहिर हो रही है। इसकी हत्या बड़े शातिर ढंग से की गई है। यह अनुमान लगाया जा सकता है कि इस घटना के सूत्रधार उस गांव के आसपास के ही लोग हैं। पुलिस अधीक्षक एवं डीआइजी से भी इस संबंध में बात की गई है। प्रशासनिक स्तर से जल्दी मामले का खुलासा कर हत्यारों की गिरफ्तारी एवं सजा दिलाने का बात कही गई है। हत्यारों की पहचान कर मामले का खुलासा करना पुलिस के लिए चुनौती भरा कार्य है।

--------------- हजारीबाग का खोजी कुत्ता बीमार, धनबाद से आएगी डॉग स्क्वायड टीम

शनिवार सुबह पुलिस शव को पोस्टमार्टम के लिए गिरिडीह भेजने की तैयारी कर रही थी। ग्रामीणों व नेताओं ने इसका विरोध किया। कहा कि घटना की जांच के लिए जब तक पुलिस विभाग का टेक्निकल सेल एवं डॉग स्क्वायड टीम नहीं पहुंचती है, तब तक शव को पोस्टमार्टम के लिए नहीं भेजने दिया जाएगा। एसडीपीओ से बातचीत कर भरोसा दिलाया कि पुलिस घटना से जुड़े हर ¨बदुओं पर गहन जांच पड़ताल कर रही है। इस क्षेत्र में जो भी बड़ी घटना होती थी, उसमें हजारीबाग पुलिस के अंदर से डॉग स्क्वायड टीम को लाया जाता था, लेकिन दुर्भाग्यवश हजारीबाग पुलिस केंद्र में डॉग स्क्वाड टीम का कुत्ता काफी दिनों से बीमार चल रहा है। पुलिस अधीक्षक सुरेंद्र कुमार झा से वार्ता कर धनबाद से सीआरपीएफ की डॉग स्क्वायड टीम को घटना स्थल पर लाया जा रहा है। इस आश्वासन के बाद ग्रामीण व परिजन सुबह करीब 10 बजे शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजने को तैयार हुए।

Posted By: Jagran