गावां/ तिसरी : जिले के अति उग्रवाद व सुदूरवर्ती क्षेत्रों में किए जा रहे साइंस पार्कों के निर्माण से विद्यार्थियों के शैक्षणिक स्तर को और भी बेहतर बनाया जाएगा। साथ ही महिलाओं के उत्थान एवं विद्यार्थियों के लिए शैक्षणिक व्यवस्था को सुदृढ़ एवं सुगम बनाने का कार्य किया जाएगा। इसी के तहत उपायुक्त राहुल कुमार सिन्हा ने बुधवार को तिसरी व गांवा प्रखंड में संचालित विभिन्न योजनाओं का निरीक्षण किया। इस क्रम में डीसी ने तिसरी के अग्रवाल प्लस टू उच्च विद्यालय में विशेष केंद्रीय सहायता मद व जेएसएलपीएस अंतर्गत संचालित सिलाई प्रशिक्षण सह उत्पादन केंद्र व गावां प्रखंड अंतर्गत प्लस टू उच्च विद्यालय एवं निर्माणाधीन साइंस पार्क, सीएचसी व विभिन्न पीडीएस दुकानों का निरीक्षण किया। सिलाई केंद्र के निरीक्षण के क्रम में सखी मंडल की ओर से बनाए जा रहे मास्क, सूती वस्त्र के कपड़े आदि का मुआयना करते हुए प्रशिक्षणार्थियों से बातचीत की। कहा कि जिला प्रशासन की पहली प्राथमिकता महिलाओं को स्वरोजगार से जोड़ना है। उन्हें सशक्त एवं आत्मनिर्भर बनाना है। इस क्रम में प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, चिकित्सा पदाधिकारी, विद्यालयों के प्रधानाध्यापक व अन्य संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

स्वास्थ्य केंद्रों का भी किया निरीक्षण : डीसी ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण कर स्वास्थ्य सुविधाओं की जानकारी ली। वे अस्पताल में मरीजों को मिल रही स्वास्थ्य सुविधाओं व चिकित्सीय उपचार से अवगत हुए। इस क्रम में डीसी ने अस्पताल में उपलब्ध संसाधनों नार्मल बेड, आक्सीजन बेड, आक्सीजन सिलेंडर, आक्सीजन पाइपलाइन व अन्य व्यवस्थाओं को भी देखा। संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिया। डीसी ने वैक्सीनेशन व टेस्टिग को लेकर नियमित मानिटरिग करने का भी निर्देश दिया।

- पीडीएस दुकानों का किया निरीक्षण : गावां प्रखंड अंतर्गत विभिन्न पीडीएस दुकानों का डीसी ने औचक निरीक्षण कर पाश मशीन, वजन मशीन, चावल की बोरियां, पंजी संधारण आदि की जांच की तथा सभी दुकानों के बाहर सूचना पट्ट व रेट चार्ट लगाने का निर्देश दिया। इसी क्रम में आज सभी राशन दुकानों का निरीक्षण कर वस्तुस्थिति की जानकारी ली गई। डीसी ने डीलरों को आवश्यक निर्देश देते हुए पंजी, वजन मशीन, पाश मशीन, चावल की बोरियां आदि सामग्रियों की जांच की।

Edited By: Jagran