गिरिडीह : कोरोना के संक्रमण से बचाव को लेकर लगे लॉकडाउन के बीच अपनी जन धन खाते से पेंशन की राशि निकासी को बैंक पहुंचे एक बुजुर्ग को यातायात पुलिस ने मदद पहुंचाई। बुजुर्ग व्यक्ति पचंबा के रहनेवाले थे। वह पेंशन की राशि के लिए बैंक आए थे। बैंक से काम निबटा कर वह थके हारे परेशान स्थिति में किसी प्रकार बैंक से पैदल अम्बेदकर चौक के पास आकर एक होटल के बाहर बैठे थे। इसी क्रम में उधर से गुजर रहे यातायात इंस्पेक्टर रतन कुमार सिंह व अन्य जवानों की नजर उन पर पड़ी। बुजुर्ग को लाचार स्थिति में होटल के बाहर बैठा देखकर पुलिस की गाड़ी वहां रूक गई और उनकी मदद करने को सभी आगे आ गए। बुजुर्ग व्यक्ति से परेशानी का कारण पूछा गया तो उन्होंने घर जाने के लिए वाहन के इंतजार में रहने की बात कहते हुए पैदल चलने में असमर्थता जाहिर की। पुलिस वाले को बताया कि पैदल ही बैंक के काम से यहां आए थे लेकिन जाने में दिक्कत हो रही है। इतना सुनने के बाद यातायात पुलिस उन्हें पहले पानी व कुछ खाने को दिया। उसके बाद यातायात पुलिस का एक जवान शिवशंकर कुमार अपनी गोद में उठाकर पुलिस के वाहन में बैठाकर पचंबा स्थित घर भेज दिया।

पुलिस की मदद से बुजुर्ग का मन प्रसन्न हो गया और तहे दिल से आशीर्वाद देकर वे वाहन से घर चले गए। ट्रैफिक इंस्पेक्टर ने कहा कि जहां लॉकडाउन का पालन कराना हम पुलिस वालों की ड्यूटी है वहीं परेशान लोगों को हरसंभव मदद करना भी फर्ज व दायित्व बनता है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस