गिरिडीह : रेड क्रास सोसाइटी के पूर्व सचिव सह माहुरी समाज के केंद्रीय अध्यक्ष सुबोध प्रकाश के बड़े भाई व दवा व्यवसायी नवीन प्रकाश की शुक्रवार की रात करीब दस बजे सड़क हादसे में मौत हो गई। नवीन प्रकाश भाजपा नेता व राज्य महिला आयोग की पूर्व सदस्य पूनम प्रकाश के जेठ भी थे।

विश्वनाथ नर्सिंग होम से नवीन प्रकाश को रेफर करने के बाद स्वजन उन्हें लेकर एंबुलेंस से दुर्गापुर जा रहे थे। इसी दौरान गिरिडीह-टुंडी मार्ग पर ताराटांड़ के निकट उनकी एंबुलेंस चक्का खुलने से ट्रक से टकरा गई। इससे एंबुलेंस पलटी मार गई। मौके पर ही नवीन प्रकाश की मौत हो गई जबकि एंबुलेंस पर सवार उनकी पत्नी, पुत्र आयुष प्रकाश, कंपाउंडर व चालक दुलारू जख्मी हो गए। रात करीब 10.45 बजे तीनों जख्मी को सदर अस्पताल लाया गया। तीनों का वहां इलाज चल रहा है। इधर मृतक नवीन प्रकाश के शव को पुलिस घटना स्थल से ताराटांड़ थाना ले आई थी। इधर दुर्घटना के बाद भाग रहे ट्रक को पुलिस ने ताराटांड़ थाना के आगे से पकड़ लिया। ट्रक गिरिडीह से लौह अयस्क लेकर कोलकाता जा रहा था।

घटना के संबंध में बताया जाता है कि शहर के डाक्टर लेन में भारत मेडिकल नामक दवा दुकान चलाने वाले 61 वर्षीय नवीन प्रकाश की तबीयत शुक्रवार की रात अचानक बिगड़ गई थी। स्वजन उन्हें लेकर तुरंत विश्वनाथ नर्सिंग होम पहुंचे थे। प्राथमिक उपचार के बाद डाक्टर ने ह्दय में परेशानी को देखते हुए उन्हें तुरंत दुर्गापुर ले जाने की सलाह दी। रोटरी क्लब की एंबुलेंस से उन्हें लेकर स्वजन दुर्गापुर के लिए निकल गए। इसी दौरान रास्ते में पंडरी और ताराटांड़ के बीच यह हादसा हो गई। सदर अस्पताल में बड़ी संख्या में सुबोध प्रकाश के समर्थक देर रात तक डटे हुए थे।

Edited By: Jagran