संस, गावां (गिरिडीह): थाना क्षेत्र की बीदीडीह पंचायत स्थित धरवे नावाडीह महुआकोला जंगल में बीते दिनों अवैध माइका उत्खनन करने के दौरान तीन मजदूरों की दबकर मौत हो जाने के मामले में दो अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज करवाई गई है। गावां थाना में शिकायतकर्ता प्रशिक्षु पुअनि पप्पू कुमार खुद हैं। उन्होंने शिकायत में कहा है कि गुप्त रूप से जांच के उपरांत यह जानकारी मिली थी कि महुआकोला जंगल में संदीप तुरी, प्रकाश तुरी, अखिलेश यादव, कुलदीप यादव व कांग्रेस यादव समेत कई अन्य लोगों द्वारा अवैध रूप से माइक के उत्खनन का संचालन किया जाता है। उक्त स्थल पर मजदूर से माइका उत्खनन करवाने के दौरान खदान धंसने से तारापुर निवासी सुरेश ठाकुर एवं उनकी पत्नी सरिता देवी व सीता राम कुमार की दबकर मौत हो गई। सुरेश ठाकुर का नौ वर्षीय पुत्र पिटू कुमार गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना में माइका उत्खनन का कार्य कर रहे लोगों का शव कहीं छुपा, जला एवं दफना दिया गया है। उक्त मामले में उक्त लोगों पर गावां थाना में प्राथमिकी दर्ज की गई है। दूसरे मामले में वन प्रक्षेत्र कार्यालय में वनपाल जयप्रकाश राम महतो के आवेदन पर वन अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है। थाना प्रभारी श्रीकांत ओझा ने कहा कि प्रथमदृष्टया यह हत्या का मामला प्रतीक हो रहा है। इसी के आलोक में प्राथमिकी दर्ज करवाई गई है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस