फोटो : 16 जीआरडी 114, 20 से 25

- शहर में जगह-जगह पसरा है कचरा, नालियां भी जाम

ज्ञान ज्योति, गिरिडीह : कोरोना वायरस का कहर बढ़ता जा रहा है। भारत में भी यह महामारी का रूप ले चुका है। तेजी से यह अपना पांव पसरा रहा है। पूरा देश इससे दहशत में डूबा है। इससे निपटने के लिए साफ-सफाई और स्वच्छता पर पूरा जोर दिया जा रहा है, लेकिन गिरिडीह शहर का हाल जुदा है।

शहर को साफ-सुथरा और स्वच्छ रखने की जिम्मेवारी नगर निगम की है। सामान्य दिनों में शहर की सफाई व्यवस्था की क्या स्थिति रहती है यह तो जग जाहिर है, लेकिन अभी कोरोना वायरस के बढ़ते खतरा के बावजूद यहां सफाई व्यवस्था लचर है। हालांकि सोमवार को शहर में नगर निगम की ओर से जगह-जगह ब्लीचिग पाउडर, डीडीटी आदि का छिड़काव किया गया, लेकिन शहरवासियों को गंदगी से निजात नहीं मिल पाई है। शहर में कई जगहों पर गंदगी पसरी है। नालियां भी जाम रहने के कारण कचरों से भरी पड़ी है। गंदगी के कारण दुर्गंध से भी लोगों का जीना मुहाल हो रहा है। यहां गंदगी के अंबार के बीच कोरोना से जंग लड़ने की तैयारी की जा रही है।

कहां-कहां फैला कचरा :

दैनिक जागरण की टीम ने सोमवार को शहर की सफाई व्यवस्था का जायजा लिया। कहीं सड़कों पर कचरा पसरा मिला, तो कहीं पानी का जमाव, प्राय: सभी नालियां जाम मिलीं। मोहलीचुवां, नगर थाना के सामने, पथ निर्माण कार्यालय के पास, गांधी चौक के पास, झिझरी मोहल्ला, हुट्टी बाजार सहित अन्य स्थानों पर कचरे का अंबार देखने को मिला। इन जगहों में कहीं-कहीं रखा गया डस्टबिन भी कचरों से भर गया है, जिसे साफ नहीं किया गया है, जिस कारण लोग अब डस्टबिन के नीचे कचरा फेंक रहे हैं।

ट्रैक्टर की ट्राली बनी डस्टबिन :

शास्त्री नगर मोड़ के पास एक ट्रैक्टर की ट्राली रखी हुई है, जिसे डस्टबिन बना दिया गया है। उसी में आसपास के लोग कचरा आदि फेंकते हैं, जिस कारण ट्राली कचरा से भर गई है। काफी दिनों से उसमें कचरा रहने के कारण दुर्गंध भी आने लगी है, जिससे लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही बीमारी फैलने की भी आशंका बनी हुई है।

जाम नालियां बनीं परेशानी का सबब : बस पड़ाव रोड़ सहित कई मोहल्लों की नालियां सफाई के अभाव में कचरा भरने के कारण जाम हो गई हैं। वहीं बस पड़ाव के सामने नाली को साफ कर उससे निकला कचरा वहीं छोड़ दिया गया है। नालियों के जाम रहने के कारण दुर्गंध के कारण लोग काफी परेशान और बीमारी फैलने की आशंका से भयभीत हैं।

नगर निगम ने कसी कमर : हालांकि अब नगर निगम ने भी कोरोना से निपटने के लिए कमर कस ली है। इसे लेकर लोगों को जागरूक करने के लिए शहर क्षेत्र में ननि की ओर से प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। साथ ही नालियों, सड़कों आदि जगहों में ब्लीचिग पाउडर आदि का छिड़काव करना भी शुरू कर दिया है। फॉगिग मशीन भी चलाई जा रही है। बता दें कि भाजपा ने सफाई व्यवस्था को लेकर नगर निगम को आड़े हाथों लिया है। रविवार को भाजपाइयों ने पूर्व विधायक निर्भय कुमार शाहाबादी के आवासीय कार्यालय में बैठक कर ननि प्रशासन पर कोरोना को लेकर गंभीर नहीं रहने का आरोप लगाते हुए शहर में विशेष सफाई अभियान चलाने की मांग की थी।

------------------

- मेरे घर के सामने नाली टूट गई है, जिसमें कचरा फंस जाने के कारण नाली का पानी सड़क पर बहने लगता है। नाली की सफाई और मरम्मत कराने की आवश्यकता है। कोरोना को लेकर शहर की सफाई पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है।

प्रिया श्रीवास्तव, अलकापुरी

----------------

कोरोना से बचाव के लिए स्वच्छता पर ध्यान देने की अपील सभी से की जा रही है। इसे नगर निगम को भी गंभीरता से लेते हुए सफाई व्यवस्था दुरुस्त करनी चाहिए। जाम नालियों को अविलंब साफ किया जाए।

मीना देवी, कृष्णा नगर

------------------

शहर में कई जगहों पर गंदगी फैली है। ऐसे में कोरोना फैलने की आशंका बनी हुई है। जगह-जगह फैली गंदगी की सफाई अविलंब होनी चाहिए। हर जगह डीडीटी और ब्लीचिग पाउडर का छिड़काव भी करने की आवश्यकता है।

उमेश कुमार, सिरसिया

-------------------

कोरोना वायरस को लेकर लोग भयभीत हैं। शहर और आसपास के क्षेत्रों में फैली गंदगी लोगों के डर को और बढा़ रही है। इसकी सफाई अविलंब होनी चाहिए। पानी निकासी की व्यवस्था नहीं रहने के कारण मेरे घर के पास भी काफी जल जमाव हो गया। इससे काफी परेशानी होती है। नगर निगम यहां से पानी निकासी की व्यवस्था करे।

पारो देवी, पटेल नगर

-------------------

कोरोना से बचाव और शहर वासियों को गंदगी से निजात दिलाने के लिए युद्ध स्तर पर सफाई अभियान चलाने की आवश्यकता है। नगर निगम को अभी इस पर पूरी गंभीरता के साथ काम करना चाहिए। कोरोना का खौफ तो है ही, गंदगी के कारण अन्य बीमारियां भी फैलती हैं।

अरविद कुमार, व्यवसायी

----------------------

- कोरोना से निपटने के लिए नगर निगम पूरी तरह मुस्तैद और गंभीर है। इसके लिए विशेष सफाई अभियान चलाया जा रहा है। प्रचार-प्रसार कर जागरूकता अभियान भी चलाया जा रहा है। डीडीटी व ब्लीचिग पाउडर का छिड़काव शुरू कर दिया गया है। जाम नालियों को साफ करने का निर्देश कर्मियों को दिया गया है। जहां कहीं भी कचरा और गंदगी है उसे एक-दो दिन के अंदर पूरी तरह साफ कर दिया जाएगा।

एके राय, नगर आयुक्त, गिरिडीह।

------------------------

शहर में बने तीन क्रोनोटाइल सेंटर : कोरोना वायरस को देखते हुए शहर में नगर निगम की ओर से तीन क्रोनाइल सेंटर भी बनाए गए हैं। नगर आयुक्त ने बताया कि शहर में चल रहे तीनों अटल क्लिनिक में क्रोनोटाइल सेंटर बनाया गया है, जिसमें कोरोना के मरीजों के इलाज की व्यवस्था की गई है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस