डुमरी (गिरिडीह): झारखंड आंदोलनकारी संघर्ष मोर्चा उत्तरी छोटानागपुर प्रमंडल की बैठक सोमवार को जामतारा पंचायत सचिवालय में हुई। अध्यक्षता मोर्चा के प्रदेश सचिव राजकमल महतो ने की। बैठक में संगठनात्मक मजबूती पर चर्चा की गई। साथ ही तेरह विभिन्न बिदुओं पर चर्चा की गई जिसमें झारखंड-वनांचल आंदोलकारी चिन्हितिकरण आयोग का संशोधन करते हुए आयोग का नाम झारखंड आंदोलनकारी चिन्हितिकरण आयोग करने, आयोग के संकल्प में अंकित पेंशन के स्थान पर सम्मान राशि का प्रयोग करने, आंदोलनकारी के दो बच्चों की पढाई के लिए 25 हजार से लेकर 5 लाख रुपये तक देने, आंदोलनकारियों के दो बच्चों को सरकारी नौकरियों में योग्यतानुसार प्राथमिकता देने, आंदोलनकारियों व उसके परिवार के सदस्यों को चिकित्सीय सुविधा सरकारी मान्यता प्राप्त अस्पतालों में मुहैया कराने, आंदोलनकारियों को प्राथमिकता के साथ 26 जनवरी, 15 अगस्त एवं 15 नवंबर को राजकीय सम्मान देने, आंदोलनकारियों को बोर्ड, निगम, आयोग व सीनेट में पदेन सदस्य बनाने, केन्द्र सरकार व अर्धसरकारी उपक्रमों में सदस्य बनाने, रेलवे पास यात्रा हेतु निर्गत करने, उनके इतिहास को पाठ्यक्रम में शामिल करने, उनके नाम पर चौक चौराहों व पथों का नामकरण करने, आंदोलनकारियों की पहचान कर संकल्प में शामिल करने, उन्हें स्वतंत्रता सेनानी का दर्जा देने की मांग शामिल हैं। बैठक में मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष बीरेन्द्र सिंह, कोडरमा के संयोजक संतोष सहाय, भोला महतो, जॉन मुर्मू, करमचंद महतो, दयाल महतो, किशोर किस्कू, अब्दुल वाहिद, अनिल कुमार बरनवाल, हरि महतो, इरशाद खान, जयकुमार महतो, नारायण महतो आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस