बिरनी (गिरिडीह) : भलुआ गांव में स्वर्गीय कलीम अंसारी उर्फ कलीम मियां के घर पर अज्ञात लोगों ने सोमवार रात पोस्टर चिपकाकर परिजनों को धमकी दी है। मंगलवार सुबह परिजन घर से बाहर निकले तो दरवाजे पर पोस्टर चिपका नजर आया। दरवाजे की दोनों तरफ पोस्टर लगे थे। परिजनों ने ग्रामीणों बुलाकर इसे दिखाया। इसकी सूचना गांव के इकबाल नसरीन ने थाना प्रभारी को दी। थाना प्रभारी ने पुलिस पदाधिकारी को भलुआ भेज कर पोस्टर को जब्त करवाया। पुलिस मामले की जांच में जुटी है।

पत्नी ने लगाई सुरक्षा की गुहार : कलीम अंसारी की पत्नी सबीना खातून ने पति के हत्यारों के खिलाफ शक के आधार पर बिरनी थाना में आवेदन देकर सुरक्षा की गुहार लगाई है। कहा है कि 7 जून 2019 को पति की हत्या बड़े जेठ व जेठाइन तथा उनके तीनों पुत्र, दामाद व पुत्री ने मिलकर पीट-पीटकर ग्रामीणों के सामने कर दी थी। मामले में जेठ नासिर अंसारी व उनके दामाद अलाउद्दीन अंसारी जेल में बंद थे। 16 जनवरी को जेल से दोनों बाहर निकले और बराबर केस उठाने के लिए दबाव बनाने लगे। बार-बार कह रहे हैं कि केस उठा लो नहीं तो पति की तरह पूरे परिवार की हत्या कर देंगे। उन्हें पूरा विश्वास है कि पोस्टर जेठ नासिर ने ही चिपकाया है।

पोस्टरों में लिखा है कि मैं नासिर मियां पिता जफीर मियां ग्राम भलुआ थाना बिरनी गिरिडीह में चिट्ठी लिख रहा हूं। खास यह है कि शहजाद अंसारी तुम अपना केस उठा लो नहीं तो बाप की तरह तुम्हारा भी मर्डर कर देंगे। अगर मेरा घर कुर्की हो गया तो तेरे घर में आग लगा देंगे। तेरे घर को बम से उड़ा देंगे। केस को तुम उठा लो क्योंकि पुलिस मेरा कुछ नहीं बिगाड़ पाएगी। 8 महीने के लगभग हो गया और मेरा बेटा को भी नहीं पकड़ पाई है। इसलिए मैं तुमसे आग्रह करता हूं। मैं नासिर मियां जेल गया था, लेकिन मेरा बेल हो गया फिर जेल जाएंगे फिर बेल होगा। मैं अब जेल और कोर्ट देख चुका हूं। सब पैसे का खेल है। सबीना खातून तुम भी सोच लो पति की तरह बेटा का भी मर्डर कर देंगे। तुम केस नहीं उठाई तो हम इतने ही बोलते हैं। रिश्तेदार वाले तुम लोग भी सुन लो क्या अंजाम होगा।

क्या है पूरा मामला : नासिर व कलीम अंसारी दोनों सगे भाई थे। दोनों के बीच जमीन विवाद व जामुन पेड़ काट लेने को लेकर झगड़ा होने लगा। इसी मामले को लेकर बड़े भाई नासिर अंसारी, उनकी पत्नी जुबेदा खातून, उनके पुत्र अहमद रजा गुलाम रसूल, शाहिद अंसारी, दामाद अलाउद्दीन, पुत्री सहाना खातून ने घर के सामने अचानक हरवे हथियार से कलीम की बेरहमी से पीट पीटकर जख्मी कर दिया। इलाज के लिए रांची रिम्स ले जाने के क्रम में उसकी मौत हो गई। इस मामले में सबीना खातून ने उक्त सभी लोगों पर हत्या का मामला दर्ज कराया है। इसमें नासिर व अलाउद्दीन की गिरफ्तारी हुई थी। उन दोनों का बेल इसी वर्ष 16 जनवरी को हुआ है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस