गिरिडीह : देवरी एवं सरिया में शराब पीने से मौत का मामला सामने आने के बाद पुलिस एवं प्रशासन ने अवैध शराब के खिलाफ अभियान छेड़ दिया है। जिलेभर में छापेमारी की जा रही है। सैकड़ों लीटर देसी शराब, जावा एवं महुआ नष्ट किया गया है। डीसी राहुल कुमार सिन्हा एवं एसपी सुरेंद्र कुमार झा खुद छापेमारी पर नजर रख रहे हैं। प्रशासन के इस अभियान से अवैध शराब के धंधेबाजों में हड़कंप है। एसपी सुरेंद्र कुमार झा ने बताया कि पांच लोगों को इस मामले में गिरफ्तार किया गया है।

सरिया : फकरापहरी गांव में चार दिनों के अंदर जहरीली शराब पीने से हुई नौ लोगों की मौत के बाद उत्पाद विभाग व सरिया पुलिस दो दिनों से शराब के ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है। सोमवार सुबह पांच बजे से औरवाटांड़ व बसरियाढाब में छापेमारी की गई जिसकी अगुआई एसडीपीओ विनोद कुमार महतो व पुलिस निरीक्षक आरएन चौधरी कर रहे थे। इस दौरान कई स्थानों पर भठ्टियां तोड़ी गई व हजारों लीटर शराब को नष्ट किया गया। चौधरी ने बताया कि 625 लीटर देशी शराब, एक हजार लीटर जावा महुआ, सात बोरी महुआ एवं गुड़ जब्त किया गया। इन दो गांवों से शराब बनाने व बेचने के आरोप में बुलाकी मंडल, टिकू मंडल, बालेश्वर मंडल, घनश्याम मंडल, धनेश्वर मंडल, शंकर मंडल, जीवलाल मंडल, रामू पंडित, उगन पंडित को गिरफ्तार किया गया। दूसरी ओर फकरापहरी, बागोडीह, चौधरीबांध व मोर्चाटांड़ में शनिवार को की गई छापेमारी में खीरो साव व बोधी साव, बागोडीह से दसरथ कुशवाहा, चौधरीडीह से बाबूलाल हजाम, फकीरापहरी से सकलदीप कुशवाहा एवं मनोहर साव को मोरचाटांड़ से गिरफ्तार किया गया। यहां से 100 लीटर देशी शराब भी जब्त हुई।

मनोहर साव निकला मुख्य सरगना : पुलिस निरीक्षक ने बताया कि फकीरापहरी में जिस शराब का लोगों ने सेवन किया था दरअसल वह मोरचाटांड़ के मनोहर साव के यहां तैयार की गई थी। इस शराब की खरीदी फकीरापहरी के बाबूलाल हजाम व सकलदीप कुशवाहा ने की थी। उसका उपयोग गांव में हुआ था जो सामूहिक मौत का कारण बन रही है। इस छापेमारी दल में सरिया थाना के बिनोद उपाध्याय, उत्पाद विभाग गिरिडीह के मो. गुरफान, निजाम खान व ललित सोरेन शामिल थे।

देवरी में भी चला व्यापक अभियान

देवरी : पुलिस ने सोमवार को अवैध शराब बनाने व बेचने वालों के खिलाफ पलमरुआ गांव व अमझर जंगल में छापेमारी अभियान चलाया, जिसमे भारी मात्रा में जावा महुआ को नष्ट और 10 लीटर महुआ शराब जब्त की गई। खबर लिखे जाने तक छापेमारी अभियान जारी था। रविवार को खोजा टोल व शनिवार शाम को पालमरुआ तथा किसगो में छापेमारी कर देशी शराब बनाने के लिए रखे चार ड्राम, जावा महुआ नष्ट किया गया था। थाना क्षेत्र के गादी कला, चिकनाडीह, किसगो, बंगारो, कोदम्बरी, मणिकबाद, मंडरो, मरुडीह, पचम्बा, नावाडीह आदि गांवों के ग्रामीणों, समाजसेवियों व पंचायत प्रतिनिधियों की मानें तो सैकड़ों जगहों पर अवैध शराब बनाने व बेचने का सिलसिला वर्षो से जारी है। प्रशासन केवल कोरम पूरा करने के लिए छापेमारी अभियान तो चलाता है लेकिन सच्चाई कुछ और बयां करती है। लोगों ने यह भी बताया कि सार्वजनिक हाट चतरो, देवरी, घोरंजी, बेरिया, किसगो आदि बाजारों में खुलेआम अवैध महुआ शराब की बिक्री होती है। प्रशासन केवल मूदर्शक बना रहता है। जब भी थाना में शान्ति समिति की बैठकें होती है तो शराब की समस्या प्रमुखता से उठाई जाती है, लेकिन शराब बन्दी के नाम पर स्थानीय प्रशासन एक-दो दिन छापेमारी अभियान चलाकर शांत हो जाता है। छापेमारी में थाना प्रभारी अनूप रोशन भेंगरा, एसआइ प्रशांत कुमार सहित कई पुलिस जवान शामिल थे। पुलिस ने बताया कि अवैध शराब के खिलाफ छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है, जिसमें भारी मात्रा में जावा महुआ व शराब को नष्ट किया गया है।

रजमनियां में भट्ठी ध्वस्त, 5 कुंतल जावा महुआ नष्ट

बिरनी : रजमनियां में अवैध महुआ शराब भट्ठी पर थाना प्रभारी अनिल कुमार ने एसआइ प्रतीत कुमार टोप्नो, पुलिस जवान व चौकीदारों के साथ ध्वस्त कर लगभग 5 कुंतल जावा महुआ को नष्ट करते हुए 30 लीटर महुआ शराब जब्त की। पुलिस को आते देख शराब की चुलाई करने वाले भट्ठी छोड़कर फरार हो गए। बताया जाता है कि रजमनियां में काफी समय से महुआ शराब की चुलाई की जा रही है। बिना रोकटोक के महुआ शराब बाजार व गांव के चौक-चौराहों पर बिक रही है, जो लोगों के लिए जानलेवा बन रही है। खुलेआम महुआ व विदेशी शराब पान, चाय दुकान, होटल व परचून दुकानों में बिक रही है। पुलिस, प्रशासन व उत्पाद विभाग को जानकारी होने के बाद भी कोई ठोस कार्रवाई नहीं होने से लोगों का मनोबल बढ़ता जा रहा है।

प्राथमिकी दर्ज : राजमनियां में महुआ शराब की चुलाई जयदेव साव काफी समय से कर रहा था। इस मामले में थाना में उसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है।

थाना प्रभारी ने बताया कि महुआ शराब की भट्ठी में छापामारी की गई। इस दौरान भारी मात्रा में कच्चा व जावा महुआ को नष्ट किया गया। साथ ही भट्ठी को ध्वस्त करते हुए 30 लीटर महुआ शराब को जब्त कर थाना लाया गया है। जयदेव साव के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है। उसकी गिरफ्तारी होगी।

जमुआ में तीन लोगों को लिया गया हिरासत में

जमुआ : जमुआ पुलिस ने अवैध रूप से महुआ शराब की चुलाई के खिलाफ छापेमारी अभियान चलाया। इस दौरान दुम्मा, नावाडीह, मोहनोडीह और बाघमारा में छापेमारी कर 15 क्विटल जावा महुआ के साथ 60 लीटर महुआ शराब को नष्ट किया। छापेमारी अभियान में थानेदार के अलावा पुलिस पदाधिकारी अभिषेक रंजन, संजीव पाल, बीरबल सिंह आदि साथ में थे।

गावां में दो अवैध शराब भट्ठी ध्वस्त

गांवा : गुप्त सूचना के आधार पर गावां पुलिस ने प्रखंड के बग़देडीह गांव में छापेमारी कर दो अवैध शराब भट्ठियों को नष्ट कर दिया। बताया जाता है कि पटना पंचायत के बग़देडीह गांव में रहने वाले जागेश्वर चौधरी और कुलदीप चौधरी के घर में काफी दिनों से अवैध शराब भट्ठी संचालित थी। सोमवार को पुलिस को मिली सूचना के बाद गावां थाना के सहायक अवर निरीक्षक रामनरेश राम दलबल के साथ पहुंचे। पुलिस को अपने घर की ओर आते देख दोनों भाग गए। सूचना के आधार पर जब दोनों घरों में तलाशी की गई तो वहां महुआ शराब बनाने की भट्ठी और ड्राम में रखे जावा महुआ मिला। इसके बाद उन्होंने शराब की भट्ठी को नष्ट कर दिया। वहीं शराब बनाने के लिए रखे गए लगभग डेढ़ क्विटल जावा महुआ को भी जब्त कर फेंक दिया। जागेश्वर चौधरी और कुलदीप चौधरी अपने घरों में महुआ शराब का छोटे पैमाने पर निर्माण करता था और प्रतिदिन महुआ की चुलाई कराता था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस