खोरीमहुआ (गिरिडीह): धनवार प्रखंड क्षेत्र के चितरडीह में सात दिवसीय शिव परिवार प्राण प्रतिष्ठा सह रुद्र महायज्ञ कलश यात्रा के साथ शुभारंभ किया गया। चितरडीह की यज्ञशाला से 301 कलशों को स्थानीय महिला तथा कुआरी कन्याएं माथे पर धारण कर तीन किलोमीटर पैदल यात्रा करते हुए कुम्हारमारन उत्तर वाहिनी नदी पहुंची जहां विधिवत पूजा अर्चना के बाद जल भरकर पुन: यज्ञशाला पहुंची। यज्ञ समिति के अध्यक्ष राजेश कुमार साहू ने कहा कि फाल्गुन कृष्ण पक्ष की अष्टमी को इसका शुभारंभ किया गया। कृष्ण पक्ष चतुर्दशी यानि शनिवार को पूर्णाहुति सह ब्राह्मण भोजन, कुमारी कन्या भोजन तथा भंडारा व रात्रि में भक्ति जागरण के साथ इसका समापन किया जाएगा। बताया कि प्रधान यजमान रामेश्वर साव, बद्री साव व उनकी धर्मपत्नी के माध्यम से यज्ञाचार्य दिवाकर बाबा मंत्रोच्चार के साथ यज्ञ कराएंगे। रात में अयोध्या से आई पर्वाचिका जागृति शास्त्री, श्रीरामडीह से आए प्रवक्ता महेश पांडेय तथा शशिभूषण पांडेय संगीतमय कथा का आयोजन करेंगे। यज्ञ को सफल बनाने में समिति के सचिव कालेश्वर साव, उप सचिव अमरीक साव, उपाध्यक्ष सुजीत साव, कोषाध्यक्ष टिकू साव, लक्ष्मण दास, उपेंद्र साव, अशोक यादव, महेश साव, अनिल साव, रंजीत साव, केदार साव, अमीन साव, मुंशी साव, नरेश साव आदि उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस