जमुआ (गिरिडीह): जमुआ प्रखंड मुख्यालय परिसर में शनिवार को सरकार आपके द्वार कार्यक्रम का आयोजन हुआ। डीडीसी मुकुंद दास और खोरीमहुआ के अनुमंडल पदाधिकारी धीरेन्द्र कुमार सिंह उपस्थित हुए। जमीन से सम्बंधित सबसे अधिक मामले सामने आए। लोगों ने अंचल अधिकारी की कार्यशैली पर सवाल उठाए। लोगों की शिकायत सुनकर डीडीसी ने सीओ को अपनी कार्यशैली में सुधार लाने की नसीहत दी। कहा कि सरकारी कर्मियों का काम आमजनों की समस्या का समाधान करना होता है न कि उन्हें बढ़ाना। कार्यक्रम में सैकड़ों की संख्या में लोग पहुंचे और संबंधित विभागों के लगे स्टॉल में अपनी समस्या लिखकर एवं मौखिक रूप से बताई। समस्याओं का समाधान शीघ्र करने का आग्रह किया गया। कार्यक्रम में सभी विभागों के अलग-अलग स्टॉल लगाकर जनता की समस्याओं को सुना गया।

डीसीसी ने सभी स्टॉल पर जाकर उसका निरीक्षण किया और ग्रामीणों की समस्याएं सुनीं। उन्होंने पदाधिकारियों को समस्याओं के त्वरित निष्पादन का निर्देश दिया। इस दौरान जनता से मिली कई शिकायतों का निष्पादन ऑन द स्पॉट किया गया। डीडीसी ने कहा कि आज के इस कार्यक्रम में आए मामलों में सर्वाधिक मामले जमुआ सीओ से संबंधित थे। 19 मामले उनके पास आए जिसमें 12 का निदान मौके पर ही कर दिया गया। सात मामले को उन्होंने खुद अपने पास रखा है जिसका निष्पादन वह अपने स्तर से करेंगे। जमुआ के मल्हो निवासी मालती लाल दास ने सीओ पर गंभीर आरोप लगाया है। मालती के अनुसार उसे जमुआ-मिर्जागंज पथ पर टीकामगहा में पेट्रोल पंप की स्वीकृति मिली है। इसके लिए उसे अंचल से एनओसी लेना है। एनओसी देने के एवज में उससे रिश्वत के रूप में एक मोटी रकम की मांग की गई। रिश्वत का पैसा नहीं देने के कारण आठ माह से उसे दौड़ाया जा रहा है। दूसरा मामला मगहाकलां पंचायत की मुखिया शबाना आजमी का था। मुखिया के अनुसार वह अपनी रैयती जमीन के म्युटेशन के लिए अंचल का आठ माह से चक्कर लगा रही हैं लेकिन सीओ उसके दस्तावेज को बार बार ऑनलाइन में रिजेक्ट कर देते हैं। भानोडीह में धारा 144 लगने के बावजूद दबंगों के विवादित कार्य को जारी रखे जाने सहित अन्य कई मामले अंचल से संबंधित आए। डीडीसी ने सीओ को कार्यक्रम में ही डांट पिलाते हुए अपनी कार्यशैली में सुधार लाने को कहा। सुधार नहीं होने पर वरीय पदाधिकारियों को पत्र लिखने की बात कही। अनुमंडल पदाधिकारी भी सीओ के खिलाफ लगातार मिल रही शिकायतों से नाराज दिखे। कार्यशैली में सुधार नही लाने पर प्रपत्र क भरने की बात उनसे कही। इसमें बेरोजगार युवक युवतियों की भीड़ भी उमड़ी। काफी संख्या में उनलोगों ने पहुंचकर रो•ागार के लिए निबंधन कराया। जिला नियोजन पदाधिकारी प्रकाश बैठा ने बताया कि 1200 बेरोजगारों का आवेदन प्राप्त हुआ है। सामाजिक सुरक्षा से 189 आवेदन प्राप्त हुए। कार्यक्रम में बाल विकास, प्रधानमंती आवास, वन विभाग, मनरेगा, चौदवहीं वित्त, शिक्षा, भूमि संरक्षण, राजस्व, सामाजिक सुरक्षा, आधार कार्ड, जेएसएलपीएस, सहकारिता, स्वास्थ्य, पशुपालन सहित अन्य विभागों ने अपना अपना स्टॉल लगाकर लोगों को संबंधित विभाग के बारे में विस्तार से बताया।

कार्यक्रम में बीडीओ बिनोद कुमार कर्मकार, सीओ रामबालक कुमार, डॉ. राजेश दूबे, बीपीओ हीरो महतो, मुखिया महेंद्र कुमार, रमेश कुमार कुशवाहा, पंसस रनबहादुर पासवान, एएसआइ सुमंत कुमार, बीसी संतोष कुमार, नीरज कुमार, अमित कुमार के अलावे सभी विभागों के पदाधिकारी एवं कर्मी उपस्थित थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस